बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

तिमाही नतीजे: 15 फीसदी गिरा रिलायंस इंडस्ट्रीज का मुनाफा, जियो ने दर्ज की 13 फीसदी की वृद्धि

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: ‌डिंपल अलवधी Updated Fri, 30 Oct 2020 08:17 PM IST
विज्ञापन
मुकेश अंबानी
मुकेश अंबानी - फोटो : TWITTER
ख़बर सुनें
दिग्गज कारोबारी मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के नतीजे घोषित कर दिए हैं। 30 सितंबर 2020 को समाप्त दूसरी तिमाही में बाजार पूंजीकरण के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने 9,567 करोड़ रुपये का समेकित शुद्ध लाभ दर्ज किया, जो पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 15.05 फीसदी कम है। तब यह आंकड़ा 11,262 करोड़ रुपये था। कंपनी की आय 2020-21 की दूसरी तिमाही में घटकर 1.2 लाख करोड़ रुपये रही, जो एक साल पहले 2019-20 की समान तिमाही में 1.56 लाख करोड़ रुपये थी।
विज्ञापन


रिलायंस जियो को हुई 2,844 करोड़ रुपये का मुनाफा
वहीं रिलायंस की सहायक कंपनी रिलायंस जियो ने 2,844 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया, जो तिमाही-दर-तिमाही के हिसाब से 13 फीसदी ज्यादा है। साल-दर-साल के आधार पर यह आंकड़ा 185 फीसदी अधिक है। पिछले साल समान तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 990 करोड़ रुपये था। शेयर बाजार को दी जानकारी के मुताबिक समीक्षावधि में कंपनी की परिचालन आय 33 फीसदी बढ़कर 17,481 करोड़ रुपये रही। 2019-20 की इसी अवधि में कंपनी की आय 13,130 करोड़ रुपये थी। जियो प्लेटफॉर्म्स का राजस्व तिमाही-दर-तिमाही 7.1 फीसदी बढ़कर 21,708 करोड़ रुपये हो गया और EBITDA 8.7 फीसदी बढ़कर 7,971 करोड़ रुपये रहा।


इतना है बाजार पूंजीकरण
आज रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 37.45 अंक (1.85 फीसदी) की बढ़त के बाद 2064.35 के स्तर पर बंद हुआ, जबकि शुरुआती कारोबार में यह 2033.50 के स्तर पर बंद हुआ था और पिछले कारोबारी दिन 2026.90 के स्तर पर बंद हुआ था। मौजूदा समय में कंपनी का बाजार पूंजीकरण (बाजार हैसियत) 13.52 लाख करोड़ है। भारत की सबसे मूल्यवान कंपनी रिलायंस बाजार पूंजीकरण के मामले में अपना ही रिकॉर्ड तोड़ती आई है। 

रिलायंस ने कहा है कि, 'दूसरी तिमाही में समूह के कामकाज और रेवेन्यू पर कोरोना वायरस महामारी का असर पड़ा है।'

वित्तीय रूप से बेहतर प्रदर्शन किया- मुकेश अंबानी
इस संदर्भ में रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि, 'पिछली तिमाही की तुलना में कंपनी कामकाज और वित्तीय रूप से बेहतर प्रदर्शन करने में सफल रही है। समूह के पेट्रोकेमिकल व रिटेल सेगमेंट में रिकवरी देखी गई है। साथ ही डिजिटल सर्विस कारोबार में भी लगातार वृद्धि दिखी है। हमारे ओ-टू-सी कारोबार में घरेलू मांग में तेज रिकवरी आई और कई उत्पादों की मांग कोरोना वायरस के पहले के स्तर पर पहुंच गई है।

145 रुपये प्रति ग्राहक हुआ ARPU
इस दौरान कंपनी का परिचालन से होने वाले राजस्व में साल-दर-साल के आधार पर 33 फीसदी की वृद्धि हुई है और यह 17,481 करोड़ रुपये हो गई। पिछली तिमाही के प्रति उपयोगकर्ता औसत राजस्व (ARPU) प्रति माह 140.30 रुपये से बढ़कर 145 रुपये प्रति ग्राहक हो गया।

29.7 फीसदी बढ़ा रिलायंस रिटेल का रेवेन्यू
समूह की रिटेल आर्म, रिलायंस रिटेल की बात करें, तो कंपनी का परिचालन से होने वाला राजस्व तिमाही-दर-तिमाही 29.7 फीसदी बढ़कर 36,566 करोड़ रुपये हो गया, और प्रतिबंधित स्टोर संचालन के बावजूद यह पिछले साल की तरह ही रहा। रिलायंस रिटेल का EBITDA तिमाही-दर-तिमाही के आधार पर 85.90 फीसदी से बढ़कर 2,006 करोड़ रुपये हो गया। 

17.8 फीसदी बढ़ा पेट्रोकेमिकल सेगमेंट का राजस्व 
पेट्रोकेमिकल सेगमेंट का राजस्व प्रोडक्ट पोर्टफोलियो में उच्च कीमतों के साथ तिमाही-दर-तिमाही 17.8 फीसदी बढ़ गया। EBITDA में 34.6 फीसदी (5,964 करोड़ रुपये) की वृद्धि हुई। मुख्य रूप से उच्च उत्पादन मात्रा और घरेलू बाजार में उच्च मात्रा प्लेसमेंट के कारण यह आंकड़ा हासिल किया गया।  EBITDA मार्जिन में 250 आधार अंकों की क्रमिक रूप से सुधार हुआ है।

रिफाइनिंग राजस्व में 33.3 फीसदी की वृद्धि
कच्चे तेल की कीमत में वृद्धि से रिफाइनिंग और मार्केटिंग सेगमेंट के राजस्व में तिमाही-दर तिमाही आधार पर 33.3 फीसदी की वृद्धि हुई और यह 62,154 करोड़ रुपये हो गया। पिछली तिमाही में 6.30 डॉलर प्रति बैरल का सकल रिफाइनिंग मार्जिन (जीआरएम) रहा था। 

तेल और गैस में 30 फीसदी की गिरावट
कम कीमत की प्राप्ति और उत्पादन में गिरावट के कारण तेल और गैस (उत्खनन और उत्पादन) कारोबार से राजस्व 29.8 फीसदी घटकर 355 करोड़ रुपये पर आ गया। इस खंड में EBITDA नुकसान पिछली तिमाही के 32 करोड़ रुपये के मुकाबले 194 करोड़ रुपये रहा।

मीडिया व्यवसाय राजस्व में सुधार
तिमाही के दौरान मीडिया व्यवसाय से राजस्व में तिमाही-दर-तिमाही 31.5 फीसदी बढ़ा। यह आंकड़ा 807 करोड़ रुपये से बढ़कर 1061 करोड़ रुपये रहा। कोरोना वायरस महामारी के चलते विज्ञापन-राजस्व पर असर पड़ा है। आर्थिक गतिविधियों में सुधार से विज्ञापन राजस्व प्रभावित हुआ। समाचार व्यवसाय का विज्ञापन पूरी तरह से ठीक हो गया है, और मनोरंजन व्यवसाय तिमाही के अंत तक लगभग ठीक हो गया। 

जियो ने जुटाए 1,52,096 करोड़ रुपये 
जियो ने 32.96 फीसदी हिस्सेदारी बेचकर 1,52,096 करोड़ रुपये जुटाए हैं। कंपनी ने फेसबुक, गूगल, सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी पार्टरनर्स, जनरल अटलांटिक, केकेआर, मुबाडला, ADIA, टीपीजी, एल कैटरटन, पब्लिक इन्वेस्टमेंट फंड, इंटेल कैपिटल और क्वालकॉम को हिस्सेदारी बेची गई है। रिलायंस जियो को अब तक कुल 1,18,319 करोड़ रुपये का भुगतान मिल गया है। 

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के तिमाही नतीजों के मुख्य बातें:
  • रिलायंस ने अपने सभी व्यवसायों में बेहतरीन क्रमिक (Sequential) वृद्धि दर्ज की है।
  • तिमाही का कंसोलिडेटिड शुद्ध लाभ एक बार फिर 10,000 करोड़ रुपये का आंकड़ा पार कर गया, कंसोलिडेटिड शुद्ध लाभ तिमाही-दर-तिमाही 28 फीसदी बढ़कर 10,602 करोड़ रुपये हुआ (असाधारण आय को छोड़कर)।
  • कंसोलिडेटिड त्रैमासिक EBITDA 7.9 फीसदी बढ़कर 23,299 करोड़ रुपये हुआ।
  • कंसोलिडेटिड रेवेन्यू में 27.2 फीसदी की मजबूत क्रमिक वृद्धि हुई। तिमाही में यह 1,28,285 करोड़ रुपये रहा।
  • इस तिमाही में कंसोलिडेटिड सेगमेंट EBITDA का 49.6 फीसदी हिस्सा कंज्यूमर व्यापार से आया।
  • वित्त वर्ष 2020-21 की पहली छमाही में रिलायंस ने करीब 30,000 रोजगार पैदा किए।
  • रिलायंस जियो दुनिया का (चीन के अतिरिक्त) ऐसा पहला टेलीकॉम ऑपरेटर है, जिसके पास किसी एक देश में 40 करोड़ से अधिक ग्राहक हैं।
  • कंसोलिडेटिड नकद लाभ 16,837 करोड़ रुपये रहा, जो पिछली बार से क्रमिक 20.9 फीसदी अधिक है।
  • जियो का कुल वायरलेस डाटा ट्रैफिक 1.5 फीसदी बढ़कर 1,442 करोड़ GB हो गया। 
  • रिलायंस रिटेल का शुद्ध लाभ 125.8 फीसदी बढ़कर 973 करोड़ रुपये हो गया है।
  • रिलायंस रिटेल ने इस तिमाही में 125 नए स्टोर खोले। अब रिलायस रिटेल के 11,931 फिजिकल स्टोर काम कर रहे हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us