बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

Paytm: आईपीओ से पहले इस इंश्योरेंस कंपनी को खरीदना चाहते हैं पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: ‌डिंपल अलावाधी Updated Wed, 09 Jun 2021 04:08 PM IST

सार

पेटीएम संस्थापक विजय शेखर शर्मा की निवेश कंपनियों को 740 करोड़ रुपये का लोन दे सकती है। इसका इस्तेमाल जनरल इंश्योरेंस कंपनी Raheja QBE को खरीदने में किया जाएगा। 
विज्ञापन
paytm
paytm - फोटो : amarujala
ख़बर सुनें

विस्तार

आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लाने से पहले डिजिटल भुगतान और वित्तीय सेवा प्रदाता कंपनी पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा एक इंश्योरेंस कंपनी को खरीदना चाहते हैं। इसके लिए पेटीएम शर्मा की निवेश कंपनियों को लोन दे सकती है।
विज्ञापन


शर्मा की कंपनियों को 740 करोड़ का लोन दे सकती है पेटीएम
इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, इसके लिए पेटीएम विजय शेखर शर्मा की निवेश कंपनियों को 740 करोड़ रुपये का लोन देना चाहती है। सूत्रों के मुताबिक, इसका इस्तेमाल जनरल इंश्योरेंस कंपनी Raheja QBE को खरीदने में किया जाएगा। मालूम हो कि एक साल पहले पेटीएम और रहेजा क्यूबीई के सौदे की घोषणा हुई थी। पेटीएम का शर्मा की दो कंपनियों- वीएसएस होल्डिंग्स और वीएसएस इन्वेस्कटको को 740 करोड़ रुपये का लोन देने का प्रपोजल है। 


इस साल आ सकता है पेटीएम का आईपीओ
हाल ही में पेटीएम के बोर्ड ने इस साल अक्तूबर-दिसंबर की तिमाही में आईपीओ के जरिए करीब 22,000 करोड़ रुपये जुटाने के प्रस्ताव को सैद्धांतिक रूप से मंजूरी दे दी थी। अगर कंपनी अपनी योजना के अनुरूप लक्ष्य हासिल करने में सफल रहती है तो यह देश में सबसे बड़े आईपीओ में से एक हो सकता है।

शेयरधारकों में अलीबाबा का ऐंट ग्रुप और सॉफ्टबैंक भी शामिल
पेटीएम के शेयरधारकों में अलीबाबा का ऐंट ग्रुप (29.71 फीसदी), सॉफ्टबैंक विजन फंड (19.63 फीसदी), सैफ पार्टनर्स (18.56 फीसदी), विजय शेखर शर्मा (14.67 फीसदी) हिस्सेदार हैं। एजीएच होल्डिंग, टी रोव प्राइस एवं डिस्कवरी कैपिटल और बर्कशायर हैथवे के पास कंपनी में कुल मिला कर 10 फीसदी से कम हिस्सेदारी है।

क्या है आईपीओ?
जब भी कोई कंपनी या सरकार पहली बार आम लोगों के सामने कुछ शेयर बेचने का प्रस्ताव रखती है तो इस प्रक्रिया को प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश (आईपीओ) कहा जाता है। मतलब एलआईसी के आईपीओ को सरकार आम लोगों के लिए बाजार में रखेगी। इसके बाद लोग एलआईसी में शेयर के जरिए हिस्सेदारी खरीद सकेंगे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us