विज्ञापन
विज्ञापन

आईपीओ लांच पर हुआ उबर को नुकसान, 7.6 फीसदी गिरा शेयर

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Sat, 11 May 2019 03:14 PM IST
uber ipo hits setback, on day one share down by 7.6 percent
ख़बर सुनें
ऐप बेस्ड कैब सेवा देने वाली कंपनी उबर को आईपीओ लांच वाले दिन ही शेयर बाजार में नुकसान उठाना पड़ा है। कंपनी ने शुक्रवार को न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज पर अपना आईपीओ लांच किया था। इसके लिए उसने 45 डॉलर कीमत रखी थी। हालांकि यह देर शाम (अमेरिकी समयनुसार) को 41.57 डॉलर पर बंद हुआ। इस तरह से लांच वाले दिन ही कंपनी के शेयर को 7.6 फीसदी का नुकसान उठाना पड़ा था। 

कंपनी ने जुटाए 8.1 अरब

हालांकि कंपनी ने पहले दिन ही शेयर बाजार से 8.1 अरब डॉलर जुटा लिए थे। शुरुआत में ही कंपनी को 3.7 अरब डॉलर यानी करीब 258 अरब 57 करोड़ रुपये का निवेश हासिल हुआ। लेकिन यह पिछले साल के आकलन के मुकाबले काफी कम है। निवेशकों ने तब अनुमान लगाया था कि आईपीओ से ही 120 अरब डॉलर जुटा लेगी। 

इस वजह से हुआ नुकसान 

इस आईपीओ के आने से पहले ही कंपनी और कैबचालकों के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। कम आय और अनिश्चित वर्किंग कंडीशंस को लेकर अमेरिका और ब्रिटेन में कई बड़े शहरों के कैबचालकों ने 8 मई को हड़ताल करने का आह्वान किया था।
विज्ञापन
इन कैबचालकों ने अपना ऐप बंद कर दिया और कोई बुकिंग नहीं स्वीकार की थी। कैबचालकों का कहना है कि वे लोगों से इस ऐप का बहिष्कार करने के लिए प्रोत्साहित करने की कोशिश करेंगे। सैनफ्रांसिस्को में स्थित कंपनी के मुख्यालय पर भी विरोध प्रदर्शन भी जारी है। 

फेसबुक के बाद सबसे बड़ा आईपीओ

यह फेसबुक के बाद अमेरिका की किसी कंपनी का सबसे बड़ा आईपीओ है। हालांकि विश्व में अभी तक का सबसे बड़ा आईपीओ अलीबाबा लेकर आई थी, जिसने 2014 में 1.74 लाख करोड़ रुपये (2500 करोड़ डॉलर) जुटाए थे।

उबर का आईपीओ अमेरिका में अब तक के टॉप 10 बड़े आईपीओ में शुमार हो सकता है। उबर के संस्थापक गैरेट कैंप ने कमाई की यह रकम पुराने कर्मचारियों और निवेशकों के हिस्से में डाली है। ब्लूमबर्ग के मुताबिक उबर के एक और सह संस्थापक और पूर्व चीफ एग्जिक्यूटिव त्राविस के पास 6 अरब डॉलर की संपत्ति है। 

एक कार्यक्रम में कैंप ने कहा था कि 2008 में उन्हें ऐसा ऐप बनाने का विचार आया था। आज 63 देशों में उबर कारोबार कर रही है और साल में इससे 11 अरब डॉलर की कमाई होती है। उन्होंने कहा, 'मेरा सपना है कि मैं कुछ ऐसा कर पाऊं जो मेरे बाद भी रहे।'

कैंप के अलावा बहुत सारे कर्मचारी मानते हैं कि उबर को यहां तक पहुंचाने में कालानिक का बहुत बड़ा हाथ था लेकिन उन्हें भी कानूनी वजहों और नैतिक कारणों से कंपनी से अलग होना पड़ा था। 
विज्ञापन

Recommended

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार ही है कॉमकॉन 2019 की चर्चा का प्रमुख विषय
Invertis university

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार ही है कॉमकॉन 2019 की चर्चा का प्रमुख विषय

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2019 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Bazar

लगातार तीसरे दिन सस्ता हुआ सोना, चांदी के दाम में भी गिरावट

गुरुवार को लगातार तीसरे दिन सोने-चांदी की कीमत में गिरावट दर्ज की गई। दिल्ली के सर्राफा बाजार में सोना का भाव 269 रुपये गिरकर 37,580 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गया है।

19 सितंबर 2019

विज्ञापन

'नजरिया’ कार्यक्रम में बोले फिल्म निर्माता संजय राउतरे, सिनेमा में बदलाव जनता की मांग

नजरिया कार्यक्रम में फिल्म निर्माता संजय राउतरे ने शिरकत की। जहां उन्होने सफलता को लेकर बातचीत की।

19 सितंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree