विज्ञापन

ई-वाहनों को बढ़ावा देने से बिजली कंपनियों को हो सकती है 11 अरब डॉलर की तगड़ी कमाई

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Thu, 14 Jun 2018 05:44 PM IST
electricity companies can earn upto 11 billion dollar if government pushes electric vehicles
विज्ञापन
ख़बर सुनें
भारत में व्यापक पैमाने पर इलेक्ट्रिक वाहनों (ई-वाहन) को अपनाने से साल 2030 तक बिजली की कुल मांग 69.6 टेरावाट घंटे को छू सकती है, जिससे बिजली कंपनियों को 11 अरब डॉलर की अतिरिक्त आय अर्जित करने में मदद मिलेगी। बृहस्पतिवार को एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।
विज्ञापन
कार्बन उत्सर्जन में होगी कमी
एसोचैम तथा अर्न्स्ट एंड यंग एलएलपी के संयुक्त अध्ययन के मुताबिक, देशभर में इलेक्ट्रिक वाहनों की स्वीकार्यता में वृद्धि देश के विद्युत क्षेत्र के आमूल-चूल बदलाव तथा कार्बन उत्सर्जन 40-50 फीसदी तक घटाने की दिशा में सहायक होगा, जिससे कार्बन उत्सर्जन कटौती लक्ष्य को हासिल करने में देश को मदद मिलेगी। 
 
रिपोर्ट के मुताबिक, इसके अलावा इलेक्ट्रिक वाहनों को व्यापक तौर पर अपनाने से विद्युत व उपयोगिता क्षेत्रों को मांग व आपूर्ति दोनों ही पक्ष से कुल लागत तथा आय संबंधी लाभ हासिल करने में मदद मिल सकती है। 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

कोयले पर निर्भरता होगी कम

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Automobiles News in Hindi related to car and bike reviews, latest car and bike diaries and auto news in Hindi etc. Stay updated with us for all breaking news from automobiles and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Auto News

Mahindra Marazzo बनी भारतीयों की पहली पसंदीदा कार, 1 महिने में मिले 10000 ग्राहक

महिंद्रा मराजो में कंपनी ने नए 1.5 लीटर डीजल इंजन दिया है जो 120 बीएचपी पॉवर 300एनएम टॉर्क जेनरेट करता है कार का इंजन 6 स्पीड मैन्युअल गियर बॉक्स से लैस है जिसका वजन 141.13 किलोग्राम है।

20 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

बिना स्टीयरिंग व्हील और ड्राइवर के सड़कों पर दौड़ेगी Cruise AV, जानिए इस कार के बारे में...

आने वाले समय में सेल्फ ड्राइविंग कारों का ही बोलबाला होगा।

15 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree