इन उपायों को अपनाएं, बच्चे पढ़ेंगे मन लगाकर

Rakesh Jha Updated Fri, 03 Aug 2012 04:22 PM IST
way t improve concentartion among children
अगर आपका बच्चा पढ़ने से जी चुराता है तो टेंशन न लें, इसका कारण यह भी हो सकता है कि बच्चे का स्टडी रूम और स्टडी टेबल सही स्थान पर न हो। फेंगशुई के अनुसार बच्चे की स्ट्डी टेबल सही स्थान पर नहीं होने पर भी बच्चा पढ़ने से जी चुराता है। इसका नतीजा यह बच्चे की रूचि पढ़ाई में होते हुए भी मेहनत के अनुरूप उसे अच्छा परिणाम नहीं मिल पाता है। इन समस्याओं को दूर करने के लिए फेंगशुई में कुछ उपाय बताए गये हैं आप चाहें तो इसे आजमाकर देंखें।

अगर स्ट्डी रूम में बेड लगा है तो स्ट्डी टेबल इस प्रकार से लगाएं कि पढ़ते समय बच्चे के सामने बेड नहीं हो। बेड सामने होने पर मन में नकारात्मक उर्जा का संचार होता है जो आलस्य पैदा करता है और सोने की इच्छा बढ़ जाती है। इससे बच्चा पढ़ाई पर ध्यान केन्द्रित नहीं कर पाता है।

स्ट्डी टेबल को कभी भी मुख्य द्वार की तरह मुंह करके या उसके पास नहीं लगाएं। इससे बच्चे का मन चंचल रहेगा और बाहर जाकर खेलने की चाहत अधिक रहेगी। स्ट्डी टेबल ऐसी जगह पर लगाएं जहां बैठने पर बच्चे के पीठ के पीछे दीवार हो। इससे बच्चा बार-बार भागने की कोशिश नहीं करेगा।

बच्चे की स्ट्डी टेबल टॉयलेट की दीवार से सटा कर नहीं रखें, साथ ही यह भी ध्यान रखें कि स्टडी टेबल इस तरह भी न हो कि पढ़ते समय बच्चे का मुंह किचन की दीवार हो जाए। फेंगशुई का एक नियम यह भी है कि बच्चे का कुआ नंबर निकालकर उसके लिए लकी दिशा की पहचान कर लें। जो बच्चे के लिए लकी दिशा हो उस ओर स्ट्डी टेबल लगायें तो आपका बच्चा न सिर्फ मन लगाकर पढ़ेगा बल्कि उसे अच्छे परिणाम भी प्राप्त होंगे।

कुआ नम्बर निकालने का तरीका लड़कियों के लिए अलग है और लड़कों के लिए अलग। लड़की का कुआ नंबर निकालने के लिए जन्म के वर्ष के अंतिम दो अंकों को जोड़ लीजिए। इसे जोड़ने के बाद जो सिंगल अंक आए उसमें 5 जोड़ दीजिए। जो अंक आए अगर वह 9 से ज्यादा है तो उसके अंक भी जोड़ लीजिए और अब जो एक अंक आए वही लड़की का कुआ नंबर होगा।

लड़कों के लिए कुआ नंबर निकालने के लिए जन्म के वर्ष के अंतिम दो अंकों को जोड़ लीजिए। इसे जोड़ने के बाद जो सिंगल अंक आए उसे 10 से घटाएं। इससे जो एक अंक प्राप्त होगा वही लड़के का कुआ नंबर होगा।

फेंगशुई में बताया गया है कि कोई भी व्यक्ति या तो ईस्ट ग्रुप का होगा या वेस्ट ग्रुप का। जो व्यक्ति जिस ग्रुप का होता है वही उसके लिए लकी दिशा होती है। इस दिशा में वह जो भी काम करता है उसमें उसे अच्छी सफलता मिलती है। कुआ नंबर से अपनी लकी दिशा जान सकते हैं। ईस्ट ग्रुप का कुआ नंबर 1, 3, 4 और 9 है, वहीं वेस्ट ग्रुप कुआ नंबर  2, 5, 6 और 8 है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Astrology News in Hindi related to daily horoscope, tarot readings, birth chart report in Hindi etc. Stay updated with us for all breaking news from Astro and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Vaastu

जानिए पूजा में कलश की स्थापना क्यों की जाती है

किसी भी पूजा, त्योहार, संस्कार में सबसे पहले कलश स्थापना और पूजन के बिना कोई भी मंगलकार्य शुरू नहीं किया जाता है।

21 जनवरी 2018

Related Videos

FILM REVIEW: राजपूतों की गौरवगाथा है पद्मावत, रणवीर सिंह ने निभाया अलाउद्दीन ख़िलजी का दमदार रोल

संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म पद्मावत 25 फरवरी को रिलीज हो रही है। लेकिन उससे पहले उन्होंने अपनी फिल्म की स्पेशल स्क्रीनिंग की। आइए आपको बताते हैं कि कैसे रही ये फिल्म...

24 जनवरी 2018