कुमार विश्वास की कविताओं से कुछ ‘चुनिंदा पंक्तियां’

Kumar vishwas hindi kavita
                                तुम्हीं पे मरता है ये दिल, अदावत क्यों नहीं करता
कई जन्मों से बंदी है, बगावत क्यों नहीं करता आगे पढ़ें

1 year ago
Comments
X