मशहूर शायर ईश्वरदत्त अंजुम का कुल्लियात हुआ प्रकाशित

ishwar dutt anjum kulliyat book release
                
                                                             
                            ईश्वरदत्त अंजुम उर्दू शायरी में एक जाना पहचाना नाम है। बंटवारे के बाद पंजाब में जिन शायरों ने उर्दू शायरी को संवारा उसमें अंजुम भी शामिल थे। हाल ही में उनका कुल्लियात 'कुल्लियात-ए-अंजुम' नाम से प्रकाशित हुआ है। अंजुम मशहूर शायर राजेन्द्र नाथ रहबर के बड़े भाई हैं जिनकी नज़्म 'तेरे ख़ुशबू में बसे ख़त' को दुनिया भर में बेपनाह शोहरत मिली है। इस कुल्लियात में अंजुम का कुल कलाम प्रकाशित किया गया है।
                                                                     
                            

इससे पहले भी उनकी 'भीगीं पलकें' नाम से एक ग़ज़ल संग्रह प्रकाशित होकर मशहूर हो चुका है। उन्होंने ज़िन्दगी के हर पहलू को अपनी शायरी में बख़ूबी बयान किया है। अंजुम की शायरी पर मशहूर शायरों और आलोचकों ने अपनी राय रखी है और उनके कलाम की तारीफ़ की है। आगे पढ़ें

1 year ago
Comments
X