बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

शहर चुनें

विज्ञापन

कानपुर देहात में 70 साल पुराना बाग  बना चर्चा का विषय

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कानपुर Updated Sat, 12 Jun 2021 02:04 AM IST

कानपुर देहात ( Kanpur dehat) के जिला मुख्यालय से लगभग 40 किमी दूर बेहद ग्रामीण इलाके किशौरा गांव (Kishoraa Ganav )के रहने वाले बाबा रामकृष्ण कुशवाहा ( Ramkrisan Kushvaha)और उनके द्वारा तैयार किए गए नायाब फलदार पौधों और जड़ी बूटियों ( Herb) बाग चर्चा का विषय बन गया है।दरअसल रामकृष्ण कुशवाहा ( Ramkrisan Kushvaha) ने अपने पिता की प्रेरणा से प्रभावित होकर गांव में ही अपने करीब  दो एकड़ निजी उपजाऊ जमीन पर प्राकृतिक सौन्दर्यता को सजोने का काम कर रहे है। यहीं नहीं इस बाग को रामबाग ( Rambag)के नाम पर बनाने का काम किया. रामबाग के नाम से प्रसिद्ध इस बाग में रामकृष्ण कुशवाहा अपनी पत्नी राजेश्वरी देवी के साथ रहकर 16 सालों से अनवरत बाग के पेड़-पौधों और उसमें रहने वाले जीव-जंतुओं की सेवा कर रहे हैं.।

Latest

Recommended

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।