शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

बच्चा चोर समझकर हरियाणा पुलिस के दरोगा-दीवान को पीटा, ग्रामीणों ने छीने पिस्टल

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखीमपुर खीरी Updated Sun, 25 Aug 2019 07:19 AM IST
हरियाणा पुलिस के दरोगा को पीटा (सांकेतिक तस्वीर) - फोटो : अमर उजाला
बबुरी गांव में शुक्रवार देर रात बच्चा चोर समझकर ग्रामीणों ने हरियाणा पुलिस के एक दरोगा, हेड कांस्टेबल और उनकी प्राइवेट कार के चालक को पकड़ लिया और उनकी जमकर पिटाई की। कार में भी तोड़फोड़ की। बचने के लिए जब दरोगा ने पिस्टल निकाली तो भीड़ ने छीन ली। गांव के ही कुछ लोगों ने भीड़ से तीनों को बचाकर एक कमरे में बंद कर पुलिस को सूचना दी। इसके बाद आई निघासन थाना पुलिस बमुश्किल उन तीनों को अपने साथ ले जा सकी। 
विज्ञापन
ये भी पढ़ें- यूपी: स्कूटी सवार तीन किशोरों ने किशोरी के फाड़े कपड़े

अंबाला (हरियाणा) के बलदेव नगर थाने में तैनात दरोगा ओमप्रकाश और हेड कांस्टेबल सुरजीत सिंह लखनऊ हाईकोर्ट किसी काम से गए थे। वहां से कार से वे लोग सीतापुर से पलिया, शाहजहांपुर होते हुए अंबाला के लिए निकले। कार राहुल चला रहा था। हेड कांस्टेबल सुरजीत के मुताबिक यह रास्ता उन्होंने गूगल मैप से मिला। इसी मैप के सहारे वे धौरहरा होते हुए सिसैया क्रशर तक तो पहुंच गए, मगर इसके बाद रास्ता भटक गए। रात के समय बबुरी गांव पहुंचकर उनकी कार कीचड़ में फंस गई। हेडकांस्टेबल सुरजीत मदद के लिए पास में ही मंदिर में श्रीकृष्ण जन्मष्टमी कार्यक्रम में शामिल पांच छह लोगों को बुला लाया और उनकी मदद से कार बाहर निकलवा ली। 

इसी बीच दरोगा ओमप्रकाश ने बबुरी के रहने वाले मैनेजर नामक युवक से निघासन जाने का रास्ता पूछा और थोड़ी दूरी के लिए उसे गाड़ी में बैठने को कहा। कीचड़ से कार निकलने के बाद मैनेजर अपने एक साथी के साथ कार में बैठ गया। इसी बीच कुछ ग्रामीण बच्चा चोर समझकर मौके पर आ गए और घेराबंदी करके सभी को पकड़ लिया। इन लोगों का कहना था कि भले ही इनमें एक ने वर्दी पहन रखी हो, इस इलाके में बदमाश ऐसे ही वेश बदलकर आते हैं। यह कहते हुए दरोगा, सिपाही और चालक की जमकर पिटाई की। गाड़ी के शीशे तोड़कर उसे क्षतिग्रस्त कर दिया। 

दरोगा ने अपनी पिस्टल निकालकर ग्रामीणों को धमकाने की कोशिश की, लेकिन भीड़ ने पिस्टल छीन ली। भीड़ हमलावर हुई तो गांव के ही कुछ लोगों ने उन तीनों को बचाकर एक कमरे में बंद करने के बाद निघासन थाना पुलिस को सूचना दी। घटना का पता चलने पर सीओ राकेश कुमार नायक और प्रभारी निरीक्षक दीपक शुक्ल मौके पर पहुंचे। पुलिस ने किसी तरह लोगों से दरोगा की पिस्टल कब्जे में ली। जब तीनों को लेकर थाना पुलिस रवाना हुई तो ग्रामीण उन्हें से उलझ गए। सीओ ने किसी तरह से ग्रामीणों को शांत कराया।

ग्रामीणों ने बदमाश समझकर मारपीट की है। हरियाणा पुलिस कर्मियों की ओर से तहरीर दी गई है। एफआईआर दर्ज करके हमलावरों को गिरफ्तार किया जाएगा- शैलेंद्र लाल एएसपी
विज्ञापन

Recommended

haryana police lakhimpur kheri news lakhimpur kheri village list lakhimpur crime news

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।