आपका शहर Close

शुभ कार्यों के लिए करना होगा इंतजार, विवाह के लिए मिलेंगे केवल 15 शुभ मुहूर्त

shubh muhurat date of marriage in november and december month

देवउठनी एकादशी 31 अक्टूबर को है। शास्त्रों के अनुसार देवउठनी एकादशी के बाद ही सभी तरह के शुभ कार्य शुरू किये जाते हैं, लेकिन इस बार भगवान के जागने के 18 दिन बाद ही कोई शुभ कार्य किए जा सकता है। इसका कारण ग्रहों का चाल है। दरअसल देवशयनी एकादशी से देवउठनी एकादशी तक यानी चार महीने भगवान विष्णु शयनकाल की अवस्था में होते हैं और इस दौरान कोई शुभ कार्य नहीं किया जाता है।

पढ़ें- भगवान विष्णु के जागने पर होगा माता तुलसी के साथ विवाह, ये है पूरी कथा

Most Viewed

सोने के तरीके से जानिए आप किस तरह के व्यक्ति हैं

sleeping position reveals about your personality
  • मंगलवार, 21 नवंबर 2017
  • +

घर में रखें बिल्ली की ऐसी प्रतिमा, धन और भाग्य से जुड़ी हर बाधा होगी दूर

Maneki neko or money cat shine your luck and remove all Obstacle
  • बुधवार, 22 नवंबर 2017
  • +

राजा की बात पर हैरान हुआ दर्जी, बोला मांगे थे 2 रुपये और मिल गए दो गांव

Worship of God without any demand because god knows everything
  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +

Also View

छठ पूजा में देश के इन सूर्य मंदिरों में होती है विशेष पूजा, मिलता है मनचाहा फल

chhath puja 2017 these sun temples in india fulfil all desires of devotees
  • मंगलवार, 24 अक्टूबर 2017
  • +

भगवान विष्णु के जागने पर होगा माता तुलसी के साथ विवाह, ये है पूरी कथा

 tulsi vivah on 31 october 2017 and dev pravodhni ekadashi story
  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

जानिए भगवान शिव को क्यों पसंद है भांग और धतूरा, अर्पित करने पर मिलता है लाभ

 during worship of lord shiva offered to bhang or marijuana and water
  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!