आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

हलचल view more

‘इस शायरी में गाने बजाने को कुछ नहीं’ कहने वाले शायर तश्ना आलमी नहीं रहे

  • अमर उजाला ब्यूरो, लखनऊ
  • मंगलवार, 19 सितंबर 2017

तश्ना आलमी अपने ख़ास अंदाज़ और तल्ख़ तेवर के लिए जाने जाते थे। कोई उन्हें मास्टर साहब कहता तो कोई डॉक्टर साहब, कोई उन्हें कामरेड कह कर संबोधित करता तो कोई शायर।

आपकी रचनात्मकता के लिए नया फ़लक...

  • काव्य डेस्क-अमर उजाला, नई दिल्ली
  • शनिवार, 9 सितंबर 2017

फ़िल्म फेस्टिवल में 'नाच लौंडा नाच'

  • काव्य डेस्क, नई दिल्ली
  • बुधवार, 20 सितंबर 2017

बीकानेर के देशनोक में अन्तरराष्ट्रीय कवि सम्मेलन

  • काव्य डेस्क, नई दिल्ली
  • मंगलवार, 19 सितंबर 2017

पत्रकार गौरी लंकेश की याद में एक संगीतमय शाम

  • काव्य डेस्क, नई दिल्ली
  • गुरुवार, 14 सितंबर 2017
kavya promtional banner
Top
Your Story has been saved!