भांग के लेप से किया जा रहा है 'महाकाल' का बचावः एएसआई की रिपोर्ट

Home›   City & states›   Ujjain’s Mahakal Jyotirlingam use of bhang in the offerings could be protecting from erosion

टीम डिजिटल,अमर उजाला

Ujjain’s Mahakal Jyotirlingam use of bhang in the offerings could be protecting from erosion

पुरातत्व विभाग की हाल ही में आई रिपोर्ट के मुताबिक उज्जैन के महाकाल ज्योर्तिलिंग में लगातार हो रहे क्षरण का बचाव भांग से हो रहा है। पुरातत्व विभाग की दो सदस्यीय टीम ने कहा कि ज्योतिर्लिंग पर हर पानी, दूध, फूल और भस्म चढ़ाया जाता है जिससे इसका तेजी से क्षरण हो रहा है साथ ही शिवलिंग को बैक्टीरिया और फंगस भी तेजी से प्रभावित कर रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विभाग की रिपोर्ट में लिखा गया है कि शिवलिंग पर दूध और फूल चढ़ाए जाने के बाद शिवलिंग तेजी से घिस रहा है लेकिन भांग के लेप की वजह से शिवलिंग बचा हुआ है।  रिपोर्ट में बताया गया है कि भांग में कुछ रसायनिक तत्व पाए जाते हैं जो क्षरण को रोकता है।  महाकालेश्वर मंदिर के पुजारी प्रदीप गुरु कहते हैं कि महाकालेश्वर मंदिर में शिवलिंग पर भांग का लेप सदियों से इस्तेमाल किया जा रहा है। शिवलिंग पर उपयोग किए जा रहे भांग बहुत अच्छी क्वालिटी का होता है। भगवान का जब श्रृंगार किया जाता है तब करीब डेढ किलो भांग का लेप भगवान को लगाया जाता है।  इसी साल की शुरुआत में इंदौर की सारिका गुरु ने भगवान को पंचामृत श्रींगार और भष्म आरती का विरोध किया था और कहा था कि इससे शिवलिंग तेजी से घिस रहा है। कोर्ट ने इस मामले में एक कमेटी का गठन किया और पुरात्व विभाग की टीम पिछले महीने शिवलिंग की जांच के लिए उज्जैन पहुंची थी और ज्योतिर्लिंग की जांच की थी।
Share this article
Tags: ujjains mahakal , jyotirlingam , erosion , temple , bacterial and fungal , bhang ,

Most Popular

शादीशुदा हीरो पर डोरे डाल रही थी ये एक्ट्रेस, पत्नी ने सेट पर सबके सामने मारा चांटा

Bigg Boss 11: आज अर्शी करेंगी इन दो कंटेस्टेंट की किस्मत का फैसला, उल्टी पड़ जाएगी पूरी बाजी

रुला देने वाले हैं मां-बहन की हत्या में पकड़े गए किशोर की जिंदगी के ये 5 सच

पीरियड्स पर सोनम कपूर की तीखी बात, कहा- 'बचपन में दादी ऐसा बोलती थीं'

देशभर के सभी बैंकों में बदल गया ये नियम, पढ़ लें नहीं तो होगी मुसीबत

3 लाख में मारुति बलेनो को बना दिया मर्सिडीज, RTO ने देखा तो कर दी सीज