नमी का पैसा काटकर धान खरीद करे सरकार

Home›   City & states›   नमी का पैसा काटकर धान खरीद करे सरकार

Haldwani Bureau

रुद्रपुर। जिले में सरकारी धान खरीद केंद्रों पर 17 फीसदी नमी का मानक किसानों के लिए मुसीबत बना हुआ है। घर पर धान सुखाने की व्यवस्था न होने से किसानों को मजबूरी में आढ़तियों को औने-पौने दामों पर धान बेचना पड़ रहा है। किसानों ने मांग उठाई की नमी का पैसा काटकर समर्थन मूल्य पर धान खरीदा जाए।ग्राम धरमपुर, रुद्रपुर निवासी किसान जगदीश सिंह ने कहा मंडी समिति के कर्मचारी आढ़तियों को फायदा पहुंचाने के लिए फड़ पर धान की बोली तक नहीं लगा रहे हैं। इस कारण आढ़ती मनमाने रेट पर धान खरीद रहे हैं। किसानों द्वारा विरोध करने पर धान न खरीदने की धमकी दी जा रही है। प्रतापपुर निवासी किसान सुधीर कुमार शाही कहते हैं कि सरकार नमी का बहाना बनाकर किसानों का धान खरीदने से बच रही है। इसकी फायदा उठाकर आढ़ती किसानों को लूट रहे हैं। यदि सरकार की नीयत साफ है तो धान में जितनी नमी मिलती है उसका पैसा काटकर किसानों का धान समर्थन मूल्य पर खरीदे। किसान इसके लिए तैयार हैं। रुद्रपुर निवासी किसान तजेंद्र सिंह विर्क ने कहा कि आढ़ती किसानों से समर्थन मूल्य से बेहद कम मूल्य में धान खरीदने के साथ ही घटतौली और अवैध कटौती भी कर रहे हैं। मलसी निवासी किसान नूर अहमद मलिक ने कहा कि बारिश से धान गीला होने से नमी अधिक आ गई थी, लेकिन सरकारी कर्मियों ने उनके धान की खरीद से हाथ खड़े कर दिए हैं। सरकार को नमी के मानकों में संशोधन करना चाहिए, ताकि किसानों को धान बेचने में समस्या न हो।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

Bigg Boss 11: घर से OUT होने के फैसले से हितेन हैरान, इंटरव्यू में कईं चौंकाने वाले खुलासे

LIVE: गुजरात-हिमाचल में भाजपा बहुमत की ओर, दोनों जगह पहली जीत पार्टी के खाते में

एक्स ब्वॉयफ्रेंड ने देखी अनुष्‍का की हनीमून फोटो, फिर तुरंत दिया कुछ ऐसा रिएक्‍शन

विराट-अनुष्का की शादी में एक मेहमान का खर्च था 1 करोड़, पूरी शादी का खर्च सुन दिमाग हिल जाएगा

अनुष्‍का-विराट की हनीमून फोटो पर 1 घंटे में 9 लाख से ज्यादा लाइक, तेजी से हो रही वायरल

रायन के माली ने खोला बहुत बड़ा राज, हत्या के वक्त आसपास भी नहीं था बस कंडक्टर