ऐप में पढ़ें

पूर्वांचल में डेंगू का प्रकोप: वाराणसी समेत आसपास के जिलों में बढ़ रहे डेंगू-मलेरिया के मरीज, जानें हाल

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, वाराणसी Published by: गीतार्जुन गौतम Updated Fri, 24 Sep 2021 12:17 AM IST
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
मौसम में बदलाव के चलते वाराणसी, विंध्याचल एवं आजमगढ़ मंडल में लोग डेंगू, मलेरिया व वायरल की चपेट में आ रहे हैं। सरकारी अस्पतालों की ओपीडी में हर दिन सर्दी, खांसी, जुकाम आदि के मरीज पहुंच रहे हैं। वाराणसी में अब तक सबसे अधिक डेंगू के 132 मरीज मिल चुके हैं। वहीं मऊ में कोई केस नहीं मिला है।

वाराणसी में पिछले साल डेंगू के जहां चार नए मरीज मिले थे, वहीं इस साल जुलाई से सितंबर के बीच 132 डेंगू के मरीज मिल चुके हैं। करीब 1475 संभावित मरीज भी हैं। सरकारी और निजी अस्पतालों में डेंगू व वायरल के 101 मरीजों का इलाज चल रहा है, 20 मरीज बीएचयू में भर्ती है।


अस्पतालों में डेंगू वार्ड बनाए जाने के साथ ही अभियान चलाकर डेंगू का लार्वा नष्ट कराया जा रहा है। डेंगू से अब तक  कोई मौत नहीं हुई है। वहीं मलेरिया के 106, वायरल के प्रतिदिन 100 से अधिक मरीज सरकारी अस्पतालों के ओपीडी में पहुंच रहे हैं।
विज्ञापन

बलिया में वायरल के प्रतिदिन 120 से 125 मरीज जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं। डेंगू के अब तक 45 मरीज मिल चुके हैं, कोई मौत नहीं हुई है। मऊ में डेंगू, मलेरिया का एक भी केस नहीं है। गाजीपुर में डेंगू के आठ और मलेरिया का एक मरीज मिला है। पिछले दस दिनों में बुखार के 3404 मरीज मिल चुके हैं। आजमगढ़ में डेंगू के पांच मरीज हैं। सीएमओ डॉ. आईएन तिवारी के अनुसार जांच से लेकर इलाज तक की पूरी व्यवस्था उपलब्ध है। वर्तमान में मलेरिया का कोई रोगी नहीं है वहीं बुखार पीड़ितों की संख्या में भी काफी कमी आ गई है।
विज्ञापन

सोनभद्र में अब तक डेंगू के 32 मामले सामने आए हैं। दो का उपचार चल रहा है। जिला अस्पताल में दस बेड का वार्ड बनाया गया है। सीएचसी पर तीन-तीन बेड आरक्षित हैं। कुल 69 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। वायरल बुखार के रोजाना 10-12 केस आ रहे हैं।

जौनपुर में डेंगू के मरीजों की संख्या 40 पहुंच गई है। एक सप्ताह में 10 नए डेंगू के मरीजों की पुष्टि हुई है। भदोही में अब तक 11 मरीज डेंगू के मिले हैं। सभी का इलाज चल रहा है। जिला अस्पताल राजा चेत सिंह व राजा बलवंत सिंह में 10-10 बेड बनाए गए हैं। सीएचसी में पांच-पांच बेड है। डेंगू से कोई मौत नहीं हुई है। मलेरिया के 13 मरीजों की जानकारी स्वास्थ्य विभाग को हुई है।
विज्ञापन
विज्ञापन
MORE