निमोनिया से से बचाएगा वैक्सीन

Home›   City & states›   Vaccine will save from pneumonia

ब्यूरो/अमर उजाला सिद्धार्थनगर

Vaccine will save from pneumoniaPC: amarujala

बर्डपुर।  निमोनिया एवं डायरिया पांच वर्ष से छोटे बच्चों में मृत्यु का प्रमुख कारण हैं। इस बीमारी से निपटने का एक मात्र उपाय पीसीवी वैक्सीन समय पर लगवाना है। गुरुवार को आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के पांच दिवसीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए डॉ. सुबोध चंद्रा ने इन बातों को व्यक्त किए। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के पांच दिवसीय प्रशिक्षण के तीसरे दिन डॉ. सुबोध चंद्रा ने बताया कि पीसीवी वैक्सीन का टीका प्रत्येक नवजात शिशु को जन्म लेने के छठे सप्ताह, चौदहवें सप्ताह और फिर नौ महीने की उम्र में लगाया जाता है। आशा ही प्रत्येक ग्राम सभा में जन्म लेने वाले बच्चे के टीकाकरण के लिए जिम्मेदार हैं। प्रशिक्षण में बीसीपीएम राजकुमार ने बताया कि पीसीवी वैक्सीन महंगी है। अभी तक यह बाजार में प्राइवेट डॉक्टरों के पास होती थी जिसके एक डोज की कीमत तीन से चार हजार रुपये है।  भारत सरकार इसे नियमित टीकाकरण के अंतर्गत मुफ्त में उपलब्ध करा रही है। प्रत्येक नवजात का टीकाकरण समय पर हो इसके लिए आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तत्परता से कार्य करें। प्रशिक्षण में सूरज चौहान, प्रतिमा देवी, कुसुम देवी, पुष्पांजली मिश्र, शकुंतला, अंकिता मिश्रा, किसलावती, समीना, लक्ष्मी, राधिका, मनोरमा पांडेय, आरती देवी, सरोज बाला पांडेय, सुनीता मिश्रा, प्रेमशीला, सुमन श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

सेक्स रैकेट में पकड़ी गई एक्ट्रेस का नाम आ गया सामने, एक कस्टमर से लिए जाते थे 50 हजार रुपए

SEX स्कैंडल में पकड़ीं एक्ट्रेस ने खोला बॉलीवुड का काला सच, 50 हजार में जिस्म परोसने को मजबूर हीरोइनें

PHOTOS में जानिए उन मशहूर एक्ट्रेसेज के बारे में जो सेक्स रैकेट में रंगे हाथों पकड़ी गईं

जीत के बाद PM ने थपथपाई शाह की पीठ, गुजरात में CM चुनने जाएंगे जेटली

Bigg Boss 11: हिना खान को अनुष्का शर्मा के 'भाई' ने कर दिया बदनाम, डाल दी ऐसी PHOTO

सरकार बनाने का कर रहे थे दावा, अब सीट तक नहीं बचा पाए ये 10 दिग्गज नेता