शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

कानपुर सागर हाईवे पर बैठे 7 अन्ना मवेशियों को वाहन ने कुचला, ग्रामीणों ने मौत के बाद हाईवे किया जाम

यूपी डेस्क, अमर उजाला, हमीरपुर Updated Fri, 13 Sep 2019 07:06 PM IST
हाईवे पर खड़े अन्ना गोवंश - फोटो : अमर उजाला
हमीरपुर में कानपुर सागर राष्ट्रीय राजमार्ग में मकरांव के निकट गुरुवार की रात सड़क पर बैठे मवेशियों के झुंड पर किसी ने भारी वाहन ने चढ़ा दिया। जिसमें सात मवेशियों की मौके पर मौत हो गई। जिनमें पांच दुधारू गायें व दो बछड़े थे। इस घटना को लेकर सुबह टहलने निकले लोगों ने नराजगी जताते हुए करीब 10 मिनट हाईवे पर जाम लगाया।

हालांकि स्थानीय प्रशासन जाम लगने की बात को नकार रहा है। जबकि घटना की सूचना पर आनन-फानन में उप जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी व स्थानीय कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। बीडीओ और पशु चिकित्सक को भी मौके पर बुलाया गया। मृतक गोवंश का पोस्टमार्टम कराकर उनको दफनवा दिया गया है। 

 
विज्ञापन

अन्ना मवेशियों को नियंत्रण करने के लिए प्रदेश की योगी सरकार करोड़ों रूपये के बजट के साथ लगातार नई-नई योजनाएं बना रही हैं। गोशाला निर्माण के साथ उनके खाने पीने की व्यवस्था की गई है। 15 अगस्त तक अन्ना मवेशियों को गोशालाओं में बंद करने का जिलाधिकारी आदेश दे चुके हैं। इसके बावजूद कई गांवों में मवेशियों को बंद नहीं किया गया है।

यहां तक की किसानों के मवेशी भी अन्ना घूम रहे हैं। यही मवेशी वाहनों से टकराकर घायल हो रहे हैं। गुरुवार की रात तीसरे पहर मकरांव के निकट एक भारी वाहन हाईवे में बैठे गोवंश के झुंड को रौंदता हुआ निकला गया। जिसमें सात मवेशियों की मौत हो गई। इस घटना से लोग आहत हैं।

 

मौके पर पहुंचे उप जिलाधिकारी अजीत परेश ने बताया कि जिन मवेशियों की मौत हुई है वह अन्ना मवेशी नहीं थे, बल्कि पशु पालकों के दूध देने वाली गाय व उनके बछड़े थे। जिनका पता लगाया जा रहा है। उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बीडीओ रत्नेश कुमार ने बताया कि मकरांव में गोशाला बनी है और वहां अन्ना जानवर बंद हैं।

लेकिन जिन गायों और बछड़ों की मौत हुई है वह पशु पालकों के हैं। उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी आरके सिंह ने बताया कि सड़क दुर्घटना में पांच गायों की मौत हुई हैं। जबकि दो बछड़े थे। इन सबका पोस्टमार्टम किया गया है और इनकी मौत भारी वाहनों की टक्कर से हुई हैं। पोस्टमार्टम के बाद सभी मृत गायों को दफना दिया गया।
विज्ञापन

Recommended

up news news in up hindi news news in hindi crime news crime news in hindi cattle cattle problem in india cattle problem in up cows died in accident

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Related

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।