ऐप में पढ़ें

तस्वीरें: देश के मोस्ट वांटेड काला जठेड़ी के साथ ‘लेडी डॉन’ मैडम मिंज भी गिरफ्तार, सामने आए खौफनाक राज

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, सहारनपुर Published by: कपिल kapil Updated Sun, 01 Aug 2021 02:36 AM IST
काला जठेड़ी 1 of 7
काला जठेड़ी - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
स्पेशल सेल की टीम ने भारत के टॉप मोस्ट गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी के साथ लेडी डॉन अनुराधा चौधरी उर्फ अनुराग उर्फ मैडम मिंज उर्फ रिवाल्वर रानी (37) को भी गिरफ्तार किया है। राजस्थान के सीकर जिले के गांव लक्ष्मण गढ़ की रहने वाली अनुराधा बीटेक और एमबीए पास है।

वह 2017 तक राजस्थान के गैंगस्टर आनंद पाल की करीबी रही और उसके चुरू में पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने के बाद से गैंग चला रही थी। दोनों इंटरनेशनल क्रिमिनल एलाइंस का नेतृत्व कर रहे थे। लेडी डॉन को एके-47 से फायर करने के लिए जाना जाता है। इसकी गिरफ्तारी पर राजस्थान में 10 हजार रुपये का इनाम घोषित है।

काला के पास से पीएक्स-3 चीन निर्मित पिस्टल व अनुराधा के पास से भारतीय ऑर्डिनेंस का .38 रिवाल्वर बरामद किया है। काला ने फरार होने के बाद अपने गैंग के सदस्यों से विदेश भागने की खबर फैलवा दी और सिख युवक का हुलिया बनाकर अलग-अलग राज्यों में जल्दी-जल्दी ठिकाने बदल रहा था।
विज्ञापन

2 of 7
सुशील कुमार, काला जठेड़ी - फोटो : अमर उजाला
सरसावा टोल पर लेडी डॉन के साथ गिरफ्तार हुआ काला
स्पेशल सेल के पुलिस उपायुक्त मनीषी चंद्रा ने बताया कि फरवरी 2020 में काला हरियाणा पुलिस की कस्टडी से फरार हो गया था। पुलिस उसे गिरफ्तार करने के लिए छह माह से ऑपरेशन-डी-24 चला रही थी। एक एसीपी और दो इंस्पेक्टरों की टीम गोवा, गुजरात, मध्य प्रदेश, बिहार, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, पंजाब, हरियाणा और उत्तराखंड में काला जठेड़ी के पीछे रही, लेकिन वह पुलिस को चकमा देता रहा। टीम ने सहारनपुर के सरसावा टोल पर आने की सूचना पर उसे और उसके साथ लिवइन में रह रही अनुराधा को गिरफ्तार किया।

3 of 7
काला जठेड़ी - फोटो : amar ujala
थाईलैंड, कनाडा और यूके में बैठे हैं आका
थाईलैंड में बैठे गैंगस्टर वीरेंद्र प्रताप उर्फ काला राणा, कनाडा में सतेंद्र जीत सिंह उर्फ गोल्डी बरार और यूके का गैंगस्टर मोंटी काला को दिशा-निर्देश देते थे। इनके अलाइंस में 300 से अधिक शॉर्प शूटर हैं और मुख्य धंधा शराब बंदी वाले राज्यों में शराब का कारोबार, जबरन वसूली, अवैध हथियार, तस्करी, जमीन हड़पना व सुपारी लेकर हत्या करवाना है। पहलवान सुशील कुमार के साथ काला जठेड़ी की कितनी नजदीकियां थी, पुलिस पता लगाने का प्रयास कर रही है।
विज्ञापन

4 of 7
काला जठेड़ी और उसकी गर्लफ्रेंड - फोटो : amar ujala
काला जठेड़ी की जिले में मौजूदगी की जांच करेगी एसओजी
सहारनपुर पुलिस को इनामी गैंगेस्टर काला की गिरफ्तारी की भनक तक नहीं लग पाई। उसके बड़गांव क्षेत्र में छिपे होने की भी चर्चाएं हैं। एसएसपी डॉ. एस चनप्पा का कहना है कि काला जठेड़ी सहारनपुर जनपद में कहां-कहां रहा है, इसकी जांच एसओजी को सौंपी गई है। एसपी सिटी राजेश कुमार ने बताया कि संदीप की सहारनपुर पुलिस को गिरफ्तारी की जानकारी सोशल मीडिया से हुई है, दिल्ली पुलिस ने स्थानीय पुलिस से कोई संपर्क नहीं किया। 

काला जठेड़ी की मौजूदगी की जांच करेगी एसओजी 
सात लाख के इनामी संदीप उर्फ काला जठेड़ी के सहारनपुर जिले में छिपकर रहने की जांच एसओजी करेगी। काला जठेड़ी को एक दिन पहले ही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया है। 

5 of 7
दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की गिरफ्त में काला जठेड़ी - फोटो : amar ujala
हरियाणा में कुख्यात लारेंस बिश्नोई और राजू बसौदी सहित गैंग का प्रमुख सदस्य संदीप उर्फ काला जठेड़ी को एक फरवरी 2020 को गुरुग्राम पुलिस फरीदाबाद अदालत में पेश करने ले गई थी। पेशी के बाद वापस ले जाते समय गुरुग्राम-फरीदाबाद रोड पर बदमाशों ने पुलिस की गाड़ी पर फायरिंग कर काला जठेड़ी को पुलिस हिरासत से छुड़ा लिया था। बताया जाता है कि काला जठेड़ी ही लारेंस बिश्नोई और राजू बसौदी गैंग की कमान संभाल रहा है। पुलिस कस्टडी से फरार होने के बाद वह सहारनपुर जिले में शरण लिए हुए था, लेकिन स्थानीय पुलिस को इसकी भनक नहीं थी। 

सूत्रों की मानें तो, संदीप उर्फ काला बड़गांव क्षेत्र में छिपा हुआ था, और यहीं से अपने गैंग को चला रहा था। वहीं, एसएसपी डॉ. एस चनप्पा का कहना है कि संदीप उर्फ काला जठेड़ी सहारनपुर जनपद में कहां-कहां रहा है, इसकी जांच एसओजी को सौंपी गई है।

6 of 7
काला जठेड़ी को गिरफ्तार करने वाली दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की टीम - फोटो : amar ujala
काला जठेड़ी के बारे में स्थानीय पुलिस को नहीं लगी भनक 
सात लाख के इनामी गैंगेस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल गिरफ्तार करके ले गई, लेकिन सहारनपुर पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लग पाई। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि दिल्ली पुलिस टीम ने सहारनपुर में आमद दर्ज नहीं कराई, जिस कारण यह पता नहीं चला है कि दिल्ली पुलिस कब आई। 

7 of 7
सहारनपुर पुलिस। - फोटो : amar ujala
दरअसल, शुक्रवार को ही दिल्ली पुलिस की एंटी टेरर यूनिट (स्पेशल सेल) ने संदीप उर्फ काला जठेड़ी को सहारनपुर से गिरफ्तार करने का दावा किया। वह सोनीपत के गांव जठेड़ी का रहने वाला है। दिल्ली पुलिस को शक था कि काला जठेड़ी विदेश में बैठकर गैंग चला रहा है, लेकिन इसी बीच उसके हरियाणा में छिपे होने की खबर मिली। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने उसको तलाशने के लिए जाल बिछाना शुरू कर दिया। काला जठेड़ी का नाम पहलवान सागर धनकड़ हत्याकांड के बाद सुर्खियों में आया था। काला के भांजे सोनू महाल की सुशील पहलवान व उसके साथियों ने पिटाई की थी, जिसमें सोनू महाल की मौत हो गई थी।

इसके बाद काला ने सुशील को अंजाम भुगतने की धमकी दी थी। इसके बाद से ही काला जठेड़ी दिल्ली पुलिस की मोस्ट वांटेड सूची में शामिल हो गया था। सहारनपुर एसपी सिटी राजेश कुमार का कहना है कि संदीप उर्फ काला जठेड़ी की सहारनपुर से गिरफ्तारी की जानकारी सोशल मीडिया से हुई है, लेकिन दिल्ली पुलिस ने स्थानीय पुलिस से इस बारे में कोई संपर्क नहीं किया। काला जठेड़ी को सहारनपुर में कहां से गिरफ्तार किया गया, यह भी पता नहीं चल सका है।
विज्ञापन

Latest Video

विज्ञापन
MORE