शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

लखनऊः जानकीपुरम में बनेगा नया बस अड्डा, इन शहरों के लिए चलेंगी बसें

न्यूज डेस्क/अमर उजाला, लखनऊ Updated Tue, 23 Jul 2019 01:56 PM IST
परिवहन निगम के एमडी व एलडी उपाध्यक्ष सोमवार को नए बस अड्डे के लिए जमीन देखने पहुंचे - फोटो : अमर उजाला
परिवहन निगम का नया बस अड्डा जानकीपुरम में बनेगा। वहीं, कमता में ऊपर बने होटल और नीचे स्थित अड्डे से बसें चलेंगी। परिवहन निगम के एमडी डॉ. राजशेखर एवं एलडीए उपाध्यक्ष पीएन सिंह के सोमवार को संयुक्त निरीक्षण के बाद यह सहमति बनी।

कमता से बसें शुरू होने से कैसरबाग एवं आलमबाग अड्डे के आसपास का ट्रैफिक सिस्टम दुरुस्त होगा। निगम के एमडी के मुताबिक इंजीनियरिंग कॉलेज के पास जानकीपुरम विस्तार योजना के सेक्टर-ई में भूखंड संख्या  सीपी-13 की पांच एकड़ जमीन को बस अड्डे के लिए एलडीए ने आरक्षित किया है।

इसके दोनों तरफ 24 मीटर डिवाइडर रोड है। ऐसे में भूखंड को बस अड्डे के लिए इस्तेमाल करने पर प्रवेश एवं निकास द्वार से बसों का आवागमन आसानी से होगा। बस अड्डा बनने में करीब एक साल लगेगा।
विज्ञापन

पूर्वांचल की बसें चलेंगी, 29 किमी दूरी कम होगी

प्रतीकात्मक तस्वीर
एमडी के मुताबिक कमता अड्डे से पूर्वांचल के गोरखपुर, देवीपाटन मंडल की बसें चलने से आलमबाग बस अड्डे की 29 किमी और कैसरबाग बस अड्डे की दूरी 12 किमी कम होगी। बाहरी क्षेत्रों द्वारा संचालित लखनऊ तक की बसों को कमता अड्डे से वापस करने पर प्रति बस लगभग 24 किमी कैसरबाग स्टैंड न जाने से एवं आलमबाग बस स्टैंड न जाने से 58 किमी कम होगी। वहीं, यात्रियों पर किराये का बोझ भी कम होगा।

कैसरबाग से हो रहा 700 बसों का संचालन
कैसरबाग अड्डे से लगभग 700 बसों का संचालन हो रहा है। इनका 1400 बार आना-जाना होता है। वहीं, अड्डे पर बसें खड़ी करने की जगह न होने से सड़क जाम होती है। कैसरबाग से सीतापुर मार्ग होकर बरेली, मुरादाबाद व उत्तराखंड के देहरादून, ऋषिकेश, हरिद्वार, टनकपुर मार्ग के अतिरिक्त गोरखपुर, आजमगढ़, अयोध्या, देवीपाटन मंडलों के जनपदों से दिल्ली की ओर बसें चलती है।

जानकीपुरम अड्डे से चलेंगी 400 बसें

प्रतीकात्मक तस्वीर
जानकीपुरम अड्डे से 400 बसें चलेंगी। इससे कैसरबाग अड्डे से 60 फीसदी बसों का लोड कम होगा और जाम नहीं लगेगा। गोरखपुर से दिल्ली जाने वाली बसें कैसरबाग न आकर पॉलीटेक्निक से सीधे रिंग रोड होते हुए सीतापुर रोड पर जानकीपुरम अड्डा होकर दिल्ली चली जाएंगी।

इसी अड्डे से बरेली होते हुए हल्द्वानी, टनकपुर, हरिद्वार एवं देहरादून तथा दिल्ली, सहारनपुर, मेरठ रूट की बसों का संचालन कराने से कैसरबाग की दूरी लगभग 14 किमी प्रति बस कम होगी। पूर्वांचल की ओर से कानपुर की ओर जाने वाली बसें शहीद पथ होते हुए सीधे कानपुर रोड होकर गंतव्य को जाएंगी। इससे आलमबाग एवं कैसरबाग अड्डे पर बसों का दबाव कम होगा।
विज्ञापन

Recommended

bus stand new bus stand transport corporation md lda lucknow news

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Related

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।