ऐप में पढ़ें

यूपी: भारी बारिश के कारण मुख्यमंत्री योगी ने बाराबंकी दौरा रद्द किया, अब तक कई मौतें

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Published by: ishwar ashish Updated Thu, 16 Sep 2021 02:23 PM IST

सार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को बाराबंकी में कई परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास करने वाले थे लेकिन भारी बारिश के कारण उन्होंने दौरा रद्द कर दिया।

 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बुधवार देर रात से लगातार हो रही बारिश को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को अपना बाराबंकी दौरा रद्द कर दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की जैदपुर विधानसभा क्षेत्र के हरख व सदर विधानसभा क्षेत्र के जीआईसी के ऑडीटोरियम में आयोजित कार्यक्रम में आने वाले थे। जहां पर उन्हें करोड़ों की परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास के साथ विभिन्न सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों का सम्मान भी करना था लेकिन भारी बारिश के कारण दौरा रद्द कर दिया गया।

वहीं, भारी बारिश से प्रदेश में करीब पांच लोगों की मौत हो गई। सीतापुर जिले में पिछले कई घंटों से हो रही बारिश के बीच चल रही तेज हवाओं से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। पूरे जिले में जगह-जगह जलभराव की वजह से लोगों का आवागमन ठप हो गया है। आने जाने में परेशानी हो रही है। कई इलाकों में सुबह से ही बिजली गुल है। ऐसे में हजारों की आबादी के समय पानी का संकट खड़ा हो गया है। वहीं महमूदाबाद कोतवाली क्षेत्र के नबाबपुर मजरा भितकुरा में तेज आंधी से नीम का पेड़ गिरने से कच्ची दीवार ढह गई।


दीवार के मलबे में दबकर एक बच्ची की मौत हो गई, जबकि परिवार के तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना पाकर पुलिस प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं।

अयोध्या जिले के पूरा कलंदर थाना क्षेत्र के गौसपुर गांव में मिट्टी की दीवार गिरने से नीचे दबकर एक वृद्ध महिला की मौत हो गई। अन्य दो घायल हो गए। आनन-फानन में 108 एंबुलेंस के जरिए घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया गया जहां उनका इलाज चल रहा है।
विज्ञापन

कच्ची दीवार ढहने से हुई मौतें

जानकारी के अनुसार, थाना पुरा कलंदर के गौसपुर गांव के रहने वाले बुधराम कोरी जो मजदूरी का काम करते हैं उनके परिवार में 5 सदस्य जिसमें मां, पत्नी, बेटा व सास शामिल है। बीती रात सभी छप्पर के मकान में सो रहे थे और तेज बारिश की वजह से भोर में 4:30 बजे मिट्टी की कच्ची दीवार गिरने की वजह से दबकर मां निर्मला देवी (70) की मौके पर मौत हो गई।

जबकि बेटा देव ऋषि (14) व सास राजदेई गंभीर रूप से घायल हो गए। आनन-फानन में 108 एंबुलेंस के जरिए घायलों को जिला अस्पताल लाया गया। जहां ड्यूटी में तैनात डॉक्टर ने बताया कि घायलों को गंभीर चोटें आई हैं। उनका इलाज जिला अस्पताल में इलाज किया जा रहा है।
विज्ञापन
विज्ञापन
MORE