यौन उत्पीड़न मामले की जांच शुरु

Home›   Crime›   investigation start

ब्यूरो/अमर उजाला, ऊना।

जिला के एक स्कूल में शिक्षिका की ओर से प्रधानाचार्य पर लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच शिक्षा विभाग ने शुरू कर दी है। सोमवार को उच्च शिक्षा उपनिदेशक की अगुवाई में जांच कमेटी ने स्कूल पहुंचकर आरोपी प्रधानाचार्य से जवाब तलबी की। बताया जा रहा है कि उक्त शिक्षिका को जांच में शामिल किए गए सवाल लिखित में दिए गए थे। जिनके जवाब उसने उच्च शिक्षा उपनिदेशक को फाइल कर दिए हैं। इसके अलावा जांच कमेटी ने पीड़ित शिक्षिका समेत स्कूल स्टाफ और छात्रों के भी बयान दर्ज किए। उच्च शिक्षा उपनिदेशक भूप सिंह की अगुवाई में शामिल दो महिला शिक्षकों और एक सेक्शन ऑफिसर को जांच का जिम्मा सौंपा गया है। उधर, उच्च शिक्षा उपनिदेशक भूप सिंह ने बताया कि सोमवार को जांच कमेटी ने स्कूल का दौरा किया है। इस दौरान पीड़ित शिक्षिका समेत स्कूल स्टाफ और कुछ बच्चों के बयान दर्ज किए गए हैं। जबकि आरोपी प्रधानाचार्य से भी लिखित में जवाब तलबी की गई है। जांच की रिपोर्ट दो दिन बाद एसपी ऊना अनुपम शर्मा को सौंपी जाएगी। इसके आधार पर पुलिस विभाग आगामी कार्रवाई अमल में लाएगा। गौर है कि स्कूल की एक शिक्षिका ने आरोप जड़ा था कि स्कूल के प्रधानाचार्य ने उसकी एसीआर ठीक करने की एवज में कथित रूप से यौन संबंध बनाने के लिए दबाव बनाया था। शिक्षिका लोकलाज के कारण इस मामले को अनसुना करती रही। लेकिन, फिर भी प्रधानाचार्य की गलत हरकतें जारी रहीं। तंग आकर शिक्षिका ने प्रधानाचार्य के खिलाफ शिक्षा विभाग की ओर से स्कूल में गठित महिला सेल के पास लिखित शिकायत की। जिस पर कार्रवाई करते हुए महिला सेल ने शिक्षा विभाग से रिपोर्ट तलब की थी।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

लेडी प्रिंसीपल के कातिल छात्र ने बताई 'गुरु' को मारने की वजह, 7 बड़े खुलासे

ये हैं 'आप' के वो 20 विधायक जो गंवा बैठे अपनी कुर्सी, जानिए पूरी 'कुंडली'

बसंत पंचमी 2018: इस शुभ मुहूर्त में करें मां सरस्वती का पूजन, ऐसा करने से होगा भाग्योदय

शादी की रात खुला पति का ऐसा राज, पत्नी बोली जिंदगी बर्बाद हो गई

इस बार बसंत पंचमी पर भूलकर भी करें ये काम, जीवनभर के लिए होगा अशुभ

कनाडा में सिख व्यक्ति से पगड़ी उतारने को कहा, कीं नस्ली टिप्पणियां