ऐप में पढ़ें

बारिश से यूपी बेहाल: कहीं सड़कें डूबीं, कहीं पेड़ गिरे तो कहीं घरों से निकलना मुश्किल, पढ़िए कैसा है आपके शहर का हाल

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नोएडा Published by: प्राची प्रियम Updated Thu, 16 Sep 2021 03:29 PM IST

सार

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में पिछले 36 घंटों से तेज हवाओं के साथ लगातार हो रही बारिश ने जनजीवन अस्तव्यस्त कर दिया है। भारी बारिश के कारण कहीं सड़कों पर पानी भर गया है तो कहीं पानी घरों तक घुस गया है। तेज हवाओं के कारण जगह-जगह पेड़ गिरने से काफी नुकसान हुआ है। वहीं, लगातार बारिश के कारण कई इलाकों में बिजली गुल है। आइए जानते हैं बारिश के बीच कैसा है आपके शहर का हाल-
बारिश के कारण यूपी का हाल
बारिश के कारण यूपी का हाल - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बुधवार देर रात से लगातार बारिश हो रही है। लगातार बारिश से तापमान में काफी गिरावट दर्ज की गई है। लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली है। बारिश की वजह से जगह-जगह जलभराव भी हो गया है। सड़कें जलमग्न हो गई हैं। घरों में पानी भर गया है। यह बारिश राहत के साथ अब आफत बन गई है। आइए जानते हैं आपके जिले का कैसा हाल है। 

फतेहपुर में बरसात से गिरा मकान, दो बच्चियों की मौत
फतेहपुर के सुल्तानपुर घोष थाना क्षेत्र के दरियापुर गांव निवासी राकेश अपनी पत्नी के साथ घर के बाहर छप्पर के नीचे सो रहा था। जबकि उसकी बेटियां घर के अंदर एक कोठरी में सो रही थी। रात में अचानक कोठरी गिर गई। इसके कारण दोनों लड़कियां मलबे में दब गई। पड़ोसियों की मदद से मलबा हटाकर उन्हें निकाला गया तो पता चला की दोनों की मौत हो गई है। और पढ़ें...




चित्रकूट में दीवार गिरने से मलबे में दबकर मासूम की मौत
चित्रकूट के मऊ में 36 घंटे से हो रही मूसलाधार बारिश के कारण छोटई के कच्चे मकान की दीवार गिर गई। जिस समय हादसा हुआ, उस वक्त छोटई और उसकी पत्नी घरेलू कार्य कर रहे थे। एक बेटी और एक बेटा बाहर खेल रहे थे, जबकि एक अन्य बालक घर में सो रहा था। इसी दौरान बारिश के कारण दीवार गिर गई जिसके मलबे में दबने से एक वर्षीय सत्यम की मौत हो गई। और पढ़ें...

लखनऊ में कई जगह गिरे पेड़
लखनऊ में ठंडी हवा, काले बादल और लगातार बारिश से तापमान में काफी कमी आई है। बुधवार को तापमान 30 डिग्री से नीचे चला गया। अधिकतम तापमान 29.6 डिग्री रहा, जो सामान्य से 3.3 डिग्री कम रहा। न्यूनतम तापमान 27.1 डिग्री रहा, जो सामान्य से 2.6 डिग्री अधिक रहा। वहीं, राजधानी में कई जगह पर पेड़ भी गिर गए जिससे कई रास्ते बाधित हो गए। इसका असर यातायात पर पड़ रहा है। कई जगहों पर सड़कें जलमग्न हो गई हैं। और पढ़ें...

इन इलाकों में जलभराव बना परेशानी
तापमान में हुई गिरावट से लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली है। इटावा, उन्नाव, फतेहपुर, कानपुर देहात, कन्नौज, चित्रकूट, महोबा, बांदा में भी रुक रुक कर बारिश हो रही है। बारिश के कारण अकबरपुर अंडरपास चौराहा, नबीपुर, रनियां, रूरा, शिवली, पुखरायां, झींझक, रसूलाबाद सहित अन्य कस्बा व ग्रामीण क्षेत्र में लोगों को जलभराव की समस्या से जूझना पड़ा। और पढ़ें...

वाराणसी में लगातार बारिश के कारण बीएचयू अस्पताल में जलभराव
वाराणसी में लगातार दूसरे दिन गुरुवार को भी बारिश जारी है। कल से अब तक 95 मिमी बारिश हो चुकी है। बारिश से शहर के मुख्य चौराहों से लेकर कॉलोनी की सड़कों पर जलभराव हो गया है। जिससे आवागमन में लोगों को परेशानी हो रही है। वहीं, बीएचयू अस्पताल में जलभराव होने की वजह से मरीजों और तीमरदारों को भी काफी परिशानियों का सामना करना पड़ रहा है। प्रदेश में लगातार बारिश होने के चलते गंगा का भी जलस्तर फिर से बढ़ने लगा है। साथ ही बारिश से मौसम भी साफ हो गया है। और पढ़ें...
विज्ञापन

गोरखपुर में आफत बनी बारिश
गोरखपुर में बुधवार रात से लेकर गुरुवार सुबह तक हुई झमाझम 100 मिली मीटर बारिश शहर के लोगों के लिए आफत बन गई है। इसके चलते मुख्य सड़कों से लेकर गलियां लबालब हो गईं हैं और घरों तक में पानी भर गया है। बारिश का पानी घरों में भरने से लोगों की परेशानियां और बढ़ गई हैं। वहीं शहर के ज्यादातर इलाकों में सड़क पर घुटने भर पानी भरने से लोगों को आने-जाने में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। सड़क पर जलभराव होने के कारण सड़क टूट कर गड्ढे में तब्दील हो गई है। जिससे कई राहगीर गिरकर चोटिल भी हो चुके हैं। और पढ़ें...

आगरा में लोगों को मिली राहत
सावन में ताजनगरी सूखी रही लेकिन भादों में बारिश और मौसम ने लोगों को राहत दी है। गुरुवार सुबह से ही आगरा में बादल छाने के साथ तेज हवा चल रही हैं। हवा में ठंडक से गर्मी और उमस से राहत मिल गई। बारिश नहीं हुई लेकिन हवा ने तापमान में गिरावट ला दी। गुरुवार सुबह का तापमान करीब 25 डिग्री के आसपास था। और पढ़ें...
 
विज्ञापन

Latest Video

MORE