बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
डाउनलोड करें
विज्ञापन

Corona In Uttarakhand: सोमवार को 43 नए संक्रमित आए, तीन मरीजों की हुई मौत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Published by: अलका त्यागी Updated Mon, 08 Feb 2021 11:39 PM IST
Coronavirus in Uttarakhand latest news today: 43 new infected people Found on Monday, three patients died
- फोटो : फाइल फोटो
विज्ञापन
उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे के भीतर तीन कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हुई है, जबकि 43 और लोग संक्रमित मिले हैं। कुल संक्रमितों की संख्या 96536 हो गई है। वहीं, 142 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है। सक्रिय मरीजों की संख्या घटकर 808 आ गई है।

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, 5437 सैंपल जांच में निगेटिव मिले हैं, जबकि चार जिलों में 43 लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आए हैं। हालांकि पहले की तुलना में सैंपल जांच में कमी आई है। पिछले एक सप्ताह से प्रतिदिन 10 हजार से कम सैंपलों की जांच की जा रही है। देहरादून जिले में 22, हरिद्वार में 16, नैनीताल में दो, ऊधमसिंह नगर जिले में दो व चंपावत जिले में एक संक्रमित मिला है।


बीते 24 घंटे में प्रदेश में तीन मरीजों की मौत हुई है। एम्स ऋषिकेश, सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज, सेना अस्पताल रुड़की में एक-एक मरीज ने दम तोड़ा है। प्रदेश में अब तक 1671 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है।

वहीं, 142 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया है। इन्हें मिलाकर 92696 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। संक्रमितों की तुलना में ज्यादा मरीज ठीक होने से रिकवरी दर पहली बार 96 प्रतिशत हो गई है।
विज्ञापन

फ्रंट लाइन वर्करों को आज लगाया गया टीका

प्रदेश में आज कोविड-19 ड्यूटी में तैनात फ्रंटलाइन वर्करों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। सभी जिलों में फ्रंट लाइन वर्करों को उनके विभागों के कार्यालय परिसर में टीका लगाने का इंतजाम किया गया था। केंद्र की ओर से 10 फरवरी तक फ्रंट लाइन वर्करों के टीकाकरण को पूरा करने को कहा गया है।

प्रदेश में पहले चरण में 87588 स्वास्थ्य कर्मियों में 74407 को कोविड वैक्सीन लगाई जा चुकी है। स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण का 84.95 प्रतिशत लक्ष्य हासिल किया है। वैक्सीन लगवाने से छूट गए 14.5 प्रतिशत हेल्थ वर्करों के लिए जिलों की ओर से अलग से दिना तय किए जाएंगे।

आठ फरवरी से फ्रंट लाइन वर्करों का टीकाकरण शुरू किया गया है। पुलिस, राजस्व, पंचायतीराज, स्थायी निकायों के सफाईकर्मी, सेना व पैरामिलिट्री फोर्स के फ्रंट लाइन वर्करों को उनके ही विभागों के कार्यालय परिसर में टीका लगाया जाएगा। अब तक स्वास्थ्य विभाग ने 67 हजार से अधिक फ्रंट लाइन वर्करों का डाटा तैयार किया है। 
विज्ञापन

पुलिस लाइन में वैक्सीनेशन शुरू, एसएसपी ने लगवाई वैक्सीन 

पुलिस लाइन में सोमवार से कोरोना बचाव से वैक्सीनेशन (टीकाकरण) शुरू हो गया। सबसे पहले एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने वैक्सीन लगवाई। उन्होंने बताया कि 18 फरवरी तक जिले में कुल 3200 पुलिसकर्मियों को वैक्सीन लगाई जानी हैं। 

वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में सोमवार से फ्रंट लाइन वॉरियर्स को वैक्सीन लगाना शुरू किया गया। इसी क्रम में पुलिस लाइन देहरादून में टीकाकरण शुरू किया गया। एसएसपी ने बताया कि कोविड -19 से बचाव के लिए भारत सरकार के निर्देशों पर वैक्सीनेशन का काम हो रहा है।

इसके तहत जनपद में नियुक्त सभी पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों के वैक्सीनेशन के लिए 08 फरवरी 21 से पुलिस लाइन देहरादून में मेडिकल कैंप आयोजित किया गया। सोमवार शाम तक कैंप में 80 पुलिसकर्मियों को वैक्सीन लगाई जा चुकी थी।

उन्होंने बताया कि अन्य जगहों पर तहसील परिसरों में वैक्सीन लगाई जाएगी। सभी पुलिसकर्मियों को निर्देशित किया जा चुका है कि वे अपनी बारी आने पर वैक्सीन लगवाने के लिए आवश्यक रूप से उपस्थित रहें।
विज्ञापन
विज्ञापन
MORE
एप में पढ़ें