शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

पंजाब यूनिवर्सिटी में नौ-नौ हजार रुपये देकर पाई थी नौकरी, अब तीन महीने से नहीं मिल रहा वेतन

अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Sat, 23 May 2020 12:32 PM IST
विज्ञापन
सांकेतिक तस्वीर

विज्ञापन मुक्त विशिष्ट अनुभव के लिए अमर उजाला प्लस के सदस्य बनें

Subscribe Now
पंजाब यूनिवर्सिटी में ठेकेदारी पर रखे गए कर्मचारियों ने तीन माह का वेतन न मिलने के बाद व्यवस्था की पोल खोलना शुरू कर दी। कर्मचारियों ने कहा कि ठेकेदार की ओर से उनसे नौ नौ हजार रुपये नौकरी देते समय लिए गए थे। अब तीन माह से वेतन नहीं दिया। इन कर्मचारियों के समर्थन में ज्वाइंट सेक्रेटरी मनप्रीत सिंह माहल आए हैं।
विज्ञापन
उन्होंने वीसी से लेकर डीसी तक को मिल किया है। इसमें कहा गया है कि इन कर्मियों का वेतन नहीं दिया गया तो यह आंदोलन करने पर विवश होंगे। लॉकडाउन में उनका परिवार भुखमरी के कगार पर पहुंच गया है। पीयू के निर्माण विभाग ने ठेकेदारों के जरिये 12 कर्मचारियों की भर्तियां की थी। यह कांट्रेक्ट बेस पर थे जो वर्ष 2010 से लेकर अब तक काम करते आ रहे थे।

फरवरी से इन कर्मचारियों का वेतन नहीं दिया। ठेकेदार को कई बार कहा गया, लेकिन उन्होंने एक नहीं सुनी। आरोप है कि ठेकेदार ने ज्वाइनिंग लेटर तभी दिए थे जब उनसे नौ-नौ हजार रुपये रिश्वत के लिए थे। उन्होंने कहा कि पीयू प्रशासन के अधिकारी भी उनकी नहीं सुन रहे हैं। यदि ऐसा ही हाल रहा तो वह परिवारों के साथ आकर वीसी कार्यालय या आवास के बाहर आकर धरना देंगे।

शुक्रवार को कर्मचारी निर्माण विभाग पहुंचे थे, लेकिन वहां से भी उन्हें कोई राहत नहीं दे रहा है।
विज्ञापन

Recommended

pu chandiagarh news chandiarh news panjab university ca chandiagarh latest news
विज्ञापन

Spotlight

Recommended Videos

Most Read

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।