बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

शहर चुनें

पंजाब: गैंगस्टर गैवी के पांच और साथी गिरफ्तार, हेरोइन, तीन पिस्तौल व वाहन बरामद, पाक से जुड़े तार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Sat, 08 May 2021 09:39 PM IST

सार

शनिवार को गिरफ्तार आरोपियों की पहचान करनबीर सिंह निवासी गांव अकबरपुरा, हरमनजीत सिंह निवासी ग्राम जोहला, गुरजसप्रीत सिंह निवासी गांव बठल भाईके, रवीन्द्र इकबाल सिंह निवासी हंसलावाला (यह सभी जिला तरनतारन के हैं) और सैमुअल उर्फ सेम निवासी फिरोजपुर के तौर पर हुई है। 
विज्ञापन
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : सोशल मीडिया

विज्ञापन मुक्त विशिष्ट अनुभव के लिए अमर उजाला प्लस के सदस्य बनें

Subscribe Now

विस्तार

गैंगस्टर और नशा तस्कर गैवी से पूछताछ में हुए खुलासों के आधार पर कार्रवाई करते हुए पंजाब पुलिस ने शनिवार को उसके पांच साथियों को गिरफ्तार कर पूरे गिरोह का पर्दाफाश किया है। वांछित गैंगस्टर जयपाल के करीबी सहयोगी गैवी सिंह उर्फ विजय उर्फ ज्ञानी को गत 26 अप्रैल को झारखंड के सराए किला खरसावा जिले से पंजाब पुलिस के संगठित अपराध कंट्रोल यूनिट (ओसीसीयू) और एसएएस नगर पुलिस ने साझा ऑपरेशन में गिरफ्तार किया था।


शनिवार को गिरफ्तार आरोपियों की पहचान करनबीर सिंह निवासी गांव अकबरपुरा, हरमनजीत सिंह निवासी ग्राम जोहला, गुरजसप्रीत सिंह निवासी गांव बठल भाईके, रवीन्द्र इकबाल सिंह निवासी हंसलावाला (यह सभी जिला तरनतारन के हैं) और सैमुअल उर्फ सेम निवासी फिरोजपुर के तौर पर हुई है। 


सभी के खिलाफ पंजाब के अलग-अलग जिलों में कई आपराधिक केस दर्ज हैं। डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि पुलिस ने खरड़ के अर्बन होम्स-2 स्थित गैवी के किराए के फ्लैट से 1.25 किलो हेरोइन बरामद की है। इसके अलावा उसके अलग-अलग ठिकानों से 3 पिस्तौल, जिनमें से एक .30 कैलिबर चीनी पिस्तौल और दो .32 कैलिबर पिस्तौल और 23 कारतूस भी बरामद किए हैं।
विज्ञापन

उन्होंने बताया कि फॉर्च्यूनर, महिंद्रा स्कॉर्पियो और हुंडई वरना समेत तीन वाहन भी बरामद किए गए हैं, जो नशा तस्करी के लिए इस्तेमाल किए जाते थे। उन्होंने बताया सैमुअल जमशेदपुर में गैवी के साथ रह रहा था। वह गैवी की गिरफ्तारी से पहले दिल्ली फरार होने में सफल हो गया था। सैमुअल पाकिस्तान से लाई हेरोइन के वितरण का काम संभाल रहा था।

भारत-पाक सरहद पर है एक तस्करी ढांचा
डीजीपी ने बताया कि जांच के दौरान गैवी ने खुलासा किया कि उसने पिछले ढाई वर्षों में पाकिस्तान से कई हथियारों समेत 500 किलो से अधिक हेरोइन की तस्करी की है। इन हथियारों और हेरोइन की सप्लाई पंजाब, दिल्ली और जम्मू-कशमीर में की जाती थी। भारत-पाक सरहद पर एक तस्करी ढांचा मौजूद है, जिसके जरिये बहुत से पाकिस्तानी तस्कर भारत में हथियार और नशा तस्करी करते हैं। 

गैवी हवाला रूट या फिर नई दिल्ली स्थित आयात-निर्यात कंपनियों के जरिये भारत, पाकिस्तान और अफगानिस्तान स्थित व्यक्तियों और संस्थाओं के साथ बड़ी संख्या में वित्तीय लेन-देन भी करता था, जिसकी जांच की जा रही है।

डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि गैवी ने कबूला है कि उसने एक ट्रैवल एजेंट से फर्जी विवरणों के साथ जाली भारतीय पासपोर्ट हासिल किया था और वह पुर्तगाल भागने की योजना बना रहा था।

डीजीपी ने कहा कि गैवी के बैंक खातों और जायदाद की पहचान कर ली गई है। यह जानकारी अगली संबंधित एजेंसियों से साझा की जा चुकी है। गैंगस्टर गैवी के अन्य साथियों की भी पहचान की गई है। 
विज्ञापन

Latest Video

Recommended

Next

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।