शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

विधायक से दुर्व्यवहारः लिपिक के निलंबन के निर्देश

sonbhadra Updated Wed, 12 Sep 2018 11:30 PM IST
बहुअरा गांव में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री आवास के प्रमाण पत्र वितरण करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। - फोटो : sonbhadra
सोनभद्र। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में विकास कार्यक्रमों, नीति आयोग के निर्धारित इंडीकेटर्स की प्रगति और कानून व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने सदर विधायक भूपेश चौबे से दुर्व्यवहार की शिकायत पर बेसिक शिक्षा विभाग में तैनात वरिष्ठ लिपिक राजेश कुमार के निलंबन का निर्देश डीएम को दिया। पुलिस को नागरिकों के साथ मैत्रीपूर्ण व्यवहार करने का निर्देश दिया।
विज्ञापन
 मुुख्यमंत्री ने कहा कि दो साल के अंदर जिले को विकसित जिले के रूप में पहचान दी जाए। नीति आयोग से निर्धारित इंडीकेटर्स के मानकों को पूरा करते हुए जिले का पिछड़ापन दूर किया जाए। जिले में अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति की बहुलता है और इनको सुविधाएं समयबद्ध तरीके से दें।  

उन्होंने कानून व्यवस्था की समीक्षा की। कहा कि पुलिस नागरिकों के साथ मैत्रीपूर्ण व्यवहार करें। किसी गरीब व्यक्ति को परेशान न किया जाए। अवांछनीय तत्वों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। जो अधिकारी या कर्मचारी जनप्रतिनिधियों व वरिष्ठ नागरिकों से अभद्र व्यवहार करेगा, उसके खिलाफ तत्काल प्रभावी कार्रवाई की जाए।

उन्होंने शिक्षा विभाग के वरिष्ठ लिपिक राजेश कुमार द्वारा विधायक भूपेश चौबे से दुर्व्यवहार करने के मामले को लिपिक के निलंबन के निर्देश डीएम को दिए। कौशल प्राप्त बच्चों का प्रशिक्षण जिले के औद्योगिक प्रतिष्ठानों में कराते हुए रोजगार मुहैया कराया जाए। जिले के वन ग्राम को चिह्नित करके राजस्व ग्रामों से जोड़ा जाए। प्लास्टिक का उपयोग न होने पाए और छापामारी करके सख्त कार्रवाई की जाए।

बैठक में प्रभारी मंत्री अर्चना पांडेय, अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश अवस्थी, मुख्य मंत्री के डे-आफिसर अमित सिंह, अध्यक्ष जिला पंचायत अमरेश सिंह पटेल, राज्यसभा सांसद रामसकल, सांसद छोटेलाल खरवार, एमएलसी केदारनाथ सिंह, विधायक भूपेश चौबे, अनिला, संजीव , हरीराम चेरो, मंडलायुक्त मुरली मनोहर लाल, डीआईजी पीयूष श्रीवास्तव, डीएम अमित कुमार सिंह, एसपी किरीट राठौड़, सीडीओ सुनील कुमार वर्मा, प्रशिक्षु आईएएस मानिकनंदन, एडीएम उमाकांत त्रिपाठी, एसडीएम सदर सादाब असलम आदि थे।

Spotlight

Most Read

Related Videos

विज्ञापन
Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।