शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

अजित सिंह ने चुनाव लड़ने की चर्चा से उठाया पर्दा, जाट-मुसलमानों को साधने की कोशिश करेगी रालोद

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मुजफ्फरनगर Updated Mon, 10 Sep 2018 11:11 AM IST
चौधरी अजित सिंह - फोटो : अमर उजाला
रालोद अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह ने मुजफ्फरनगर से चुनाव लड़ने के सवाल पर कहा कि गठबंधन में सीट मिलने के बाद ही निर्णय होगा। अभी तो सीटों का बंटवारा ही नहीं हुआ है। उधर राजनीतिक गलियारे में चर्चाएं हैं कि अजित सिंह चुनाव के मद्देनजर अपने लिए माहौल तैयार कर रहे हैं। जनसंवाद कार्यक्रम के माध्यम से क्षेत्र की जनता का दिल टटोलने आए रालोद मुखिया अजित सिंह को अपने मकसद में कामयाबी की झलक दिखाई पड़ी। आगे जानें क्या बोले रालोद राष्ट्रीय अध्यक्ष:-
विज्ञापन

 जनसंवाद कार्यक्रम में यूपी के मुजफ्फरनगर पहुंचे रालोद  राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि रालोद की जाट और मुसलमानों को साधने की पूरी कोशिश है। यही वजह है कि जनसंवाद कार्यक्रम में पहुंचे जाट और मुसलमानों को एक साथ देखकर अजित सिंह काफी खुश नजर आए। कस्बे में लोकनिर्माण विभाग के निरीक्षण भवन परिसर में रालोद के जनसंवाद कार्यक्रम में सपा के पूर्व विधानसभा क्षेत्र प्रभारी अतहर हसन, अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी के भाई अयाजुद्दीन सिद्दीकी, सपा नेता आदेश त्यागी सहित सपा के कई लोगों ने पार्टी को छोड़कर रालोद का दामन थामा।
 
इस मौके पर आई जाट व मुसलमानों की भीड़ को देखकर चौधरी अजित सिंह का चेहरा खिल उठा। अगले लोकसभा चुनाव को लेकर रालोद मुखिया चौधरी अजित सिंह ने जाट व मुसलमानों को अपना फोकस बनाया है। दोनों समुदायों को एक साथ जोड़कर ही चुनावी भवसागर से पार होने की उनकी नीति है। इस गठजोड़ के कारण कैराना लोकसभा के उपचुनाव में सफलता प्राप्त की थी। 

रालोद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयंत चौधरी के बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष अजित सिंह का जिले में दो दिन का दौरा सियासी हलकों में हलचल मचा रखा है। राजनीतिक क्षेत्र में चर्चा है कि चौधरी अजित सिंह लोकसभा चुनाव से पहले अपने लिए माहौल तैयार कर रहे हैं। इन चर्चाओं के बीच रविवार को पत्रकारों ने अजित सिंह से यह सवाल दाग दिया कि क्या वह मुजफ्फरनगर से चुनाव लड़ने जा रहे हैं। इसके जवाब में अजित सिंह ने चुनाव लड़ने से मना नहीं किया है और न ही घोषणा की है कि वह चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने गठबंधन की परिस्थितियों को भांपते हुए सटीक उत्तर दिया। कहा कि अभी महागठबंधन में सीटों का बंटवारा नहीं हुआ है। 

रालोद अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह - फोटो : अमर उजाला
अभी यह देखना है कि मुजफ्फरनगर रालोद को मिलती है कि नहीं। सीट रालोद के हिस्से में आने के बाद ही आगे की बात की जाएगी। इस जवाब से यह तो तय हो गया है कि अजित सिंह का मन यहां से चुनाव लड़ने का है। सीट पर बसपा दावा कर रही है,इसलिए वह खुलकर नहीं बोल रहे हैं। अब देखना यह है कि सीट बंटवारे में मुजफ्फरनगर को रालोद के खाते में ला पाते हैं कि नहीं।  

रालोद मुखिया चौधरी अजित सिंह का हरसौली में मुस्लिम समाज के लोगों ने स्वागत किया। चौधरी अजित सिंह को एमएलसी मुश्ताक चौधरी, मंजूर अहमद, एनू नेता ने पगड़ी पहनाई। अजित सिंह ने कहा कि वह समाज में भाईचारे को स्थापित करने के लिए उन्होंने पहल की है। इसमें समाज का सहयोग मिल रहा है। मौके पर नदीम चौधरी, हरवीर, यूसुफ, अकरम, इकरामुदीन, माजिद, कल्लू, कंवलदीन, जाने आलम, अखलाक, हारुन आदि रहे।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
विज्ञापन

Recommended

ralod party ajit singh ताजा खबर चौधरी अजित सिंह जयंत चौधरी jayant chaudhary

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।