औचक निरीक्षण में कोतवाली फेल

Home›   City & states›   औचक निरीक्षण में कोतवाली फेल

Bareily Bureau

औचक निरीक्षण में कोतवाली फेलPC: अमर उजाला

बदायूं। कोतवाली का निरीक्षण करने पहुंचे एडीजी ब्रजराज मीना ने मॉनीटरिंग और निर्देशों के बावजूद कोई सुधार न दिखने पर कोतवाल से नाराजगी जाहिर की। कोतवाली पहुंचते ही मातहतों ने एडीजी को ऐसा भ्रमित किया वह कोतवाली के असली तस्वीर देख ही नहीं पाए। कोतवाली के जिस हिस्से में गंदगी और बदहाली का राज था, उस ओर एडीजी को मुड़ने ही नहीं दिया। दरअसल, एडीजी मीणा बिना किसी पूर्व सूचना के सुबह लगभग 11 कोतवाली पहुंचे। एडीजी के आने की जानकारी लगी तो एसएसपी चंद्रपक्राश, एसपी सिटी कमल किशोर और सीओ सिटी वीरेंद्र सिंह यादव भी कोतवाली पहुंच गए। कार्यालय में पहुंचते ही सबसे पहले एडीजी ने दीवार पर अपराधियों और ड्यूटी चार्ट नहीं लगा देख कोतवाल से नाराजगी जताई। कार्यालय में अपराध रजिस्टर, सक्रिय अपराधी, फरार, गुंडा एक्ट में निरुद्ध और हिस्ट्रीशीटरों का ब्योरा अपडेट नहीं मिलने पर प्रभारी निरीक्षक से कहा कि इस तरह कैसे चलेगा। एडीजी का गुस्सा देख सभी बगलें झांकने लगे। जब तक एडीजी कोतवाली में रहे पुलिस कर्मियों की सांसें थमी रहीं। निरीक्षण में ढेरों खामियां मिलने पर एडीजी काफी नाराज हुए। व्यवस्थाएं ठीक करने के लिए 15 दिन का समय दिया। कहा कि अब खामी मिलने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। करीब 30 मिनट बाद वह मंडी समिति चौकी का निरीक्षण करने चले गए। यहां सब कुछ ठीक मिलने पर चौकी इंचार्ज प्रमेंद्र को बधाई दी।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

एक्स ब्वॉयफ्रेंड ने देखी अनुष्‍का की हनीमून फोटो, फिर तुरंत दिया कुछ ऐसा रिएक्‍शन

अनुष्‍का-विराट की हनीमून फोटो पर 1 घंटे में 9 लाख से ज्यादा लाइक, तेजी से हो रही वायरल

विराट-अनुष्का की शादी में एक मेहमान का खर्च था 1 करोड़, पूरी शादी का खर्च सुन दिमाग हिल जाएगा

क्या आप जानते हैं क‌ितने पढ़े-ल‌िखे हैं कांग्रेस के 49वें अध्यक्ष राहुल गांधी, नाम भी बदलना पड़ा

संसद परिसर में हुआ कुछ ऐसा कि आडवाणी के लिए भीड़ से बाहर आए राहुल और पकड़ लिया उनका हाथ

बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए कंडोम देख मां ने कर दिया केस, अब कोर्ट ने लिया ऐसा फैसला