कॉलेज और संस्थानों को शैक्षणिक सत्र नियमित करने के निर्देश

Home›   City & states›   Instructions for Regulating Academic Session to College and Institutes.

ब्यूरो/अमर उजाला, श्रीनगर

गढ़वाल विवि ने शैक्षणिक सत्र को नियमित करने के लिए संबद्ध महाविद्यालयों व संस्थानों को कड़े निर्देश जारी किए हैं। विवि प्रशासन का कहना है कि समय से उत्तर पुस्तिकाओं की जांच व परीक्षा परिणाम घोषित करना प्राथमिकता है। विवि प्रशासन जून माह के द्वितीय सप्ताह में देहरादून में केंद्रीय मूल्यांकन कराने जा रहा है।  गढ़वाल विवि के परीक्षा नियंत्रक प्रो. केडी पुरोहित ने पत्र के माध्यम से निर्देश जारी कर कहा कि सभी संस्थान ग्रीष्मकालीन अवकाश से पूर्व हर हाल में प्रयोगात्मक व मौखिक परीक्षा संपन्न कर अंकों की सूची विवि को उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने कहा के कतिपय कालेज मौखिक व प्रयोगात्मक परीक्षा के लिए परीक्षक नियुक्त करने से पूर्व विवि को सूचित नहीं करते हैं। बिना विवि प्रशासन की अनुमति के नियुक्त परीक्षक के देय अंक मान्य नहीं होंगे। कहा कि विवि जून माह के द्वितीय सप्ताह में केंद्रीय मूल्यांकन देहरादून में आयोजित करने जा रहा है, जिसके लिए विवि को उत्तर पुस्तिका निरीक्षकों की आवश्यकता है। अंग्रेजी, हिंदी, राजनीतिशास्त्र, समाज शास्त्र, अर्थशास्त्र, पर्यावरण विज्ञान, रसायन शास्त्र, गणित आदि विषयों में प्रति विषय 50 से अधिक निरीक्षकों की आवश्यकता है। प्रत्येक संस्थान अपने यहां से ऐसे शिक्षकों की सूची विवि को भेजे। जो 10 जून से 25 जून तक देहरादून में उपलब्ध हों। उत्तर पुस्तिका निरीक्षक अधिकतम पांच दिन केंद्रीय मूल्यांकन केंद्र पर अपनी सेवाएं देंगे।
Share this article
Tags: instructions , for , regulating , academic session , college , institutes ,

Most Popular

WhatsApp के 7 ट्रिक नहीं जानते हैं तो व्हाट्सऐप चलाना बेकार है

Bigg Boss 11: अर्शी ने खोला शिल्पा का अब तक का सबसे बड़ा राज, भड़क उठीं हिना

संसद परिसर में हुआ कुछ ऐसा कि आडवाणी के लिए भीड़ से बाहर आए राहुल और पकड़ लिया उनका हाथ

विराट-अनुष्का की शादी में एक मेहमान का खर्च था 1 करोड़, पूरी शादी का खर्च सुन दिमाग हिल जाएगा

हाईवे पर जा रहे थे दो ट्रक, अचानक पुल टूटकर गंगा में गिरा, हादसे की तस्वीरें रोंगटे खड़े कर देंगी

कंडोम कंपनी ने विराट-अनुष्का के लिए भेजा खास मैसेज, जानकर शर्मा जाएंगे नए नवेले दूल्हा-दुल्हन