श्यामा प्रसाद मुखर्जी को किया याद

Home›   City & states›   श्यामा प्रसाद मुखर्जी को किया याद

Jammu and Kashmir Bureau

अमर उजाला ब्यूरोराजोरी।भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के जन्म दिवस पर वीरवार को विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें डॉ. मुखर्जी को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। पहाड़ी सलाहकार बोर्ड के वाइस चेयरमैन एवं राज्यमंत्री कुलदीप राज गुप्ता की अध्यक्षता में डाकबंगले में आयोजित कार्यक्रम में भाजपा जिला प्रधान दिनेश शर्मा सहित भारी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता और अन्य लोगों ने भाग लिया।इस अवसर पर डॉ. श्यामा प्रसाद के जीवन पर प्रकाश डालते हुए अपने संबोधन में राज्यमंत्री ने डॉ. को भारत के महान शिक्षा विद, राजनेता करार देते हुए कहा कि उन्होंने ही भारतीय जनसंघ की बुनियाद रखी थी और भारत को विश्व भर में एक अलग पहचान देने की शुरुआत की थी। कांग्रेस सरकार में और केंद्रीय मंत्री रहे और इससे पहले व पश्चिम बंगाल सरकार में मंत्री रहे। मात्र 33 वर्ष की आयु में डॉ. श्यामा प्रसाद कलकत्ता विश्वविद्यालय के कुलपति भी बन गए थे। राज्यमंत्री ने बताया कि डॉ. श्यामा प्रसाद जम्मू कश्मीर राज्य को भारत को अटूट और अभिन्न अंग बनाना चहते थे।जम्मू कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बनाने के मकसद से नेहरू सरकार को चेता कर वह वर्ष 1953 में बिना परमिट लिए जम्मू कश्मीर की यात्रा पर निकले और यहां पहुंचते ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उसी वर्ष डॉ. श्यामा प्रसाद की रहस्यमय परिस्थितियों में मृत्यु हो गई। उनकी मृत्यु का सच अभी तक दुनिया के सामने न आने की बात कहते हुए राज्यमंत्री ने कहा कि उनका बलिदान जम्मू कश्मीर राज्य की जनता के लिए था और वह बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

एक्स ब्वॉयफ्रेंड ने देखी अनुष्‍का की हनीमून फोटो, फिर तुरंत दिया कुछ ऐसा रिएक्‍शन

अनुष्‍का-विराट की हनीमून फोटो पर 1 घंटे में 9 लाख से ज्यादा लाइक, तेजी से हो रही वायरल

बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए कंडोम देख मां ने कर दिया केस, अब कोर्ट ने लिया ऐसा फैसला

शाहरुख-सलमान को छोड़िए, इस स्टार की कमाई है 32 अरब, गरीब दोस्तों को दान कर दिए 6-6 करोड़ रुपए

हनीमून पर जाने के बाद अनुष्का का ताजा वीडियो आया सामने, बाथरूम में आईं नजर

विराट-अनुष्का की शादी में एक मेहमान का खर्च था 1 करोड़, पूरी शादी का खर्च सुन दिमाग हिल जाएगा