विज्ञापन

तीसरे दिन भी हमीरपुर कॉलेज में तनाव, छात्र संगठनों ने की नारेबाजी

Shimla Bureau Updated Wed, 12 Sep 2018 11:26 PM IST
हमीरपुर। नेताजी सुभाष चंद्र बोस राजकीय महाविद्यालय हमीरपुर में बुधवार को फिर माहौल तनावपूर्ण हो गया। दोनों छात्र संगठनों एबीवीपी और एसएफआई के कार्यकर्ताओं ने कॉलेज कैंपस के अंदर एक दूसरे के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। माहौल को शांत करने के लिए कॉलेज प्रशासन और पुलिस को बीच में आना पड़ा। करीब आधा घंटा दोनों संगठनों के छात्रों में बहसबाजी और नारेबाजी चली। दोनों संगठनों के कार्यकर्ता एक-दूसरे के सामने उग्र होकर नारेबाजी कर रहे थे। हालांकि, संगठनों के कार्यकर्ताओं के बीच कोई झड़प नहीं हुई। लगातार दो दिन से छात्र संगठनों के कार्यकर्ताओं की आपसी झड़प के कारण माहौल तनावपूर्ण है।
विज्ञापन
बुधवार को कॉलेज में सुबह 11 बजे कॉलेज के बाहर एबीवीपी के कार्यकर्ता गुंडागर्दी के विरोध में नारेबाजी कर रहे थे कि तभी एसएफआई के कार्यकर्ता ने भी कॉलेज कैंपस के अंदर ही नारेबाजी करना शुरू कर दी। एसएफआई को कॉलेज कैंपस के अंदर नारेबाजी करता देख एबीवीपी कार्यकर्ता भी कैंपस के अंदर चले गए और नारेबाजी शुरू कर दी। दोनों छात्र संगठनों ने जमकर एक दूसरे के खिलाफ नारेबाजी की। मामला इतना बढ़ गया कि पुलिस को कॉलेज में बुलाना पड़ा। कॉलेज प्रशासन और पुलिस ने मिलकर मामले को शांत करवाया। प्रधानाचार्य सहित अध्यापक इस मौके पर मौजूद रहे। प्रधानाचार्य डा. एचएस जंवाल ने कॉलेज के अंदर हुई नारेबाजी को लेकर पीटीए कार्यकारिणी को कॉलेज बुलाया। इस दौरान निर्णय लिया गया कि कॉलेज कैंपस के अंदर कोई भी छात्र संगठन पार्टी का बैज नहीं लगाएगा। जो भी छात्र बैज लगाते पकड़ा गया उसे जुर्माना डाला जाएगा। अगर फिर भी वह नहीं मानते हैं तो उन्हें कॉलेज से निकाल दिया जाएगा। कॉलेज के अंदर तनावपूर्ण माहौल सहन नहीं किया जाएगा।

बॉक्स..
एबीवीपी इकाई हमीरपुर ने कहा कि वह गेट के बाहर कॉलेज में पैदा हुए गुंडागर्दी के माहौल के विरोध में नारेबाजी कर रहे थे कि कॉलेज कैंपस के अंदर ही एसएफआई ने नारेबाजी करना शुरू कर दी। इकाई अध्यक्ष अनुराग पटियाल ने कहा कि कॉलेज कैंपस के अंदर नारेबाजी करता देख उन्होंने भी कॉलेज के अंदर नारेबाजी करना शुरू कर दी। उन्होंने कहा कि एसएफआई के कार्यकर्ताओं ने उन्हें उकसाया। एसफआई कॉलेज के माहौल को खराब करने का कार्य कर रही है। इस मौके पर इकाई सचिव पुष्पदीप, सौरभ, जिला संयोजक सचिन लगवाल आदि मौजूद रहे।

Spotlight

Most Popular

Related Videos

विज्ञापन
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।