बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
डाउनलोड करें
विज्ञापन

बहादुरगढ़ में एक ही दिन के अंदर कोरोना के 10 पॉजिटिव केस मिलने के बाद उपायुक्त ने देर रात लिया बड़ा फैसला, मचा हड़कंप

रोहतक ब्यूरो
Updated Thu, 30 Apr 2020 01:09 AM IST
After getting 10 corona positive cases in Bahadurgarh, Rohtak Sabzi Mandi will be closed today
Trending Videos
बहादुरगढ़ में एक ही दिन में कोरोना के 10 संक्रमित मिलने पर उपायुक्त ने बुधवार देर रात रोहतक और सांपला की फल-सब्जी मंडी वीरवार दोपहर ढाई बजे बाद से बंद करने के आदेश जारी किए हैं। उन्होंने पुलिस अधीक्षक, मार्केट कमेटी सचिव और ड्यूटी मजिस्ट्रेट को आदेशों का पालन सुनिश्चित कराने के लिए कहा है।
विज्ञापन

उपायुक्त आरएस वर्मा ने कहा कि तेजी से फैल रहा कोरोना वायरस मानव जीवन के लिए खतरा बनता जा रहा है। इसकी कोई दवा नहीं है और बचाव के उपाय सिर्फ सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क और बार-बार हाथ धोना है। फल-सब्जी मंडी खुलने पर आढ़तियों, मासाखोरों और रेहड़ी वाले सामाजिक दूरी के नियम का पालन नहीं करते जबकि मंडी में काफी संख्या में खरीदारों की भीड़ उमड़ती है। भीड़ के उमड़ने पर कोरोना के संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है। ऐसे में यदि एक भी कोरोना पॉजिटिव जाने-अनजाने में मंडी आ जाता है तो हालात काफी भयावह हो सकता है। उपायुक्त ने बताया कि पड़ोसी जिले झज्जर के बहादुरगढ़ में लगातार कोरोना पॉजिटिव केस मिल रहे हैं। इन हालातों में देर रात फैसला लिया गया है कि वीरवार दोपहर ढाई बजे के बाद से रोहतक और सांपला की फल-सब्जी मंडी अग्रिम आदेश तक के लिए बंद रहेंगी। इसमें किसी भी तरह की व्यावसायिक गतिविधि का संचालन नहीं होगा।

वहीं, बुधवार को मंडी के आढ़तियों और मासाखोरों से कहा गया कि वह वीरवार की 11 बजे तक कोरोना से बचाव को लेकर किए गए उपायों को अमल में लाएंगे। हालातों को आंकलन करने के बाद जिला प्रशासन मंडी को स्थायी रूप से बंद करने अथवा अच्छी व्यवस्था होने पर आगे खोलने का फैसला करेगा। मगर देर शाम बहादुरगढ़ में एक ही दिन में 10 कोरोना के पॉजिटिव केस मिलने के बाद उपायुक्त ने आगामी आदेश तक दोपहर बाद से मंडी बंद करने को कहा है।
जिले की सीमाएं आज से सील, अनुमति से आने वाले की होगी स्कैनिंग
बहादुरगढ़ में कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद उपायुक्त ने जिले की सभी सीमाओं को सख्ती से सील करने के आदेश कर दिए हैं। इसके साथ ही कहा कि सीमा में प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति की स्कैनिंग की जाए। यदि कोई संदिग्ध मिले तो वहीं क्वारंटीन कर दिया जाए। उपायुक्त आरएस वर्मा ने बताया कि रोहतक की सभी सीमाओं के रास्तों को बैरियर डालकर बंद रखे जाएंगे। उपायुक्त ने बताया कि वीरवार को एसपी के साथ बैठक करके सीमा पर और सख्ती की रणनीति बनाई जाएगी ताकि कोई भी संदिग्ध जिले की सीमा में प्रवेश न कर सके।
बहादुरगढ़ के दस कोविड-19 मरीजों की पुष्टि, पीजीआईएमएस अलर्ट
राहत : ककराना की महिला की दूसरी और सांपला के मरीज की पहली जांच रिपोर्ट आई निगेटिव
रोहतक। पंडित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय कोविड-19 के मरीजों का उपचार कोविड अस्पताल में चल रहा है। बुधवार देर सायं तक रोहतक, झज्जर, बहादुरगढ़, गुरुग्राम जिलों के दस मरीजों दाखिल थे, लेकिन देर रात बहादुरगढ़ के दस मरीजों के कोविड-19 ग्रस्त होने की सूचना पर संस्थान ने नये मरीजों के आने से पहले ही उनके उपचार की तैयारियां शुरू कर ली। कोविड-19 कंट्रोल रूम के प्रभारी डॉ. वरुण अरोड़ा ने बताया कि बहादुरगढ़ के सैंपल की जांच खानपुर महिला मेडिकल कॉलेज में हुई थी। दस सैंपलों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं, बुधवार सायं पीजीआईएमएस की लैब में सांपला के मरीज की पहली व देर रात ककराना की महिला की दूसरी जांच रिपोर्ट निगेटिव आने से कुछ राहत मिली है।
कोविड-19 के लिए प्रदेश के प्रमुख नोडल अधिकारी डॉ. ध्रुव चौधरी ने बताया कि बहादुरगढ़ के दस नये मरीजों की जांच रिपोर्ट में पुष्टि हुई है। कोविड अस्पताल होने के कारण ये मरीज संस्थान में ही उपचार के लिए आएंगे। इन सभी मरीजों के उपचार की सारी व्यवस्था हमारे पास है। इससे पहले पीजीआईएमएस की वायरोलॉजी लैब में बुधवार को झज्जर के एक मरीज को कोविड-19 ग्रस्त होने की पुष्टि हुई है। वहीं, ककराना की महिला की देर रात दूसरी और सांपला के मरीज की पहली जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। ककराना की महिला को वीरवार को अस्पताल से छुट्टी देकर होम क्वारंटीन किया जाएगा। गौरतलब है कि ककराना की महिला की पहली जांच रिपोर्ट 27 अप्रैल को और दूसरी 29 अप्रैल को निगेटिव आई है। सांपला के मरीज का दूसरा सैंपल वीरवार को लिया जाएगा। इसके अलावा बहादुरगढ़ से एक, झज्जर से छह पॉजिटिव मरीज पीजीआईएमएस में उपचाराधीन हैं। इसके अलावा सिरसा से एक, गुरुग्राम से दो, झज्जर से एक व रोहतक से चार मरीजों की जांच रिपोर्ट के आने का इंतजार है। बुधवार को 505 मरीजों के सैंपल जांचे गए। अब तक 9213 सैंपलों की जांच संस्थान कर चुका है, इसमें से 133 सैंपल पॉजिटिव मिले हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
MORE
एप में पढ़ें