धान के अवशेष जलाना जीवन के लिए खतरनाक : ढांडे

Home›   City & states›   धान के अवशेष जलाना जीवन के लिए खतरनाक : ढांडे

Rohtak Bureau

धान के अवशेष जलाना जीवन के लिए खतरनाक : ढांडेअमर उजाला ब्यूरोबाबैन। धान के अवशेष जलाने से पर्यावरण को होने वाले नुकसान एवं गांव में स्वच्छता के महत्व को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए गांव भगवानपुर में ग्राम सभा आयोजित की गई। इसकी अध्यक्षता गांव की सरपंच सीमा शर्मा ने की। इसमें पंचायत, पशुपालन एवं कृषि विभाग के अधिकारियों ने लोगों को धान के अवशेष जलाने से होने वाले नुकसान और स्वच्छता के महत्व के बारे में जानकारियां दीं। इस अवसर पर नोडल अधिकारी डॉ. सुरेंद्र मोहन ढांडे ने कहा कि धान के अवशेष जलाने से वायु मंडल में गर्मी बढ़ती है। इससे मौसम पर विपरीत असर पड़ता है जो फसलों, जीव-जंतुओं और मानव जीवन के लिए खतरनाक है। उन्होंने कहा कि धान के अवशेष जलाने की बजाए उसे एकत्रित करके उसे खाद के रूप में उपयोग करे। इससे भूमि की उपजाऊ शक्ति बढ़ेगी। इससे उत्पादन बढ़ेगा और वायुमंडल में प्रदूषण भी कम होगा। इस अवसर पर पंचायत सचिव राजविंद्र सिंह ने स्वच्छता को लेकर लोगों को जागरूक किया। उन्होंने कहा कि यदि गांव स्वच्छ और सुंदर होगा तो इससे बाहर से गांव में आने वाले लोगों पर अच्छा प्रभाव पड़ेगा। इस अवसर पर मुकेश शर्मा, पंच कृष्णा रानी, रिंकू राम, सुमन, कनिजा, रविंद्र कुमार, जसवीर सिंह, रिंकू, देश राज, ज्ञान सिंह, बलदेव न बरदार, प्रीतम नंबरदार, कली राम आदि उपस्थित थे।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

एक्स ब्वॉयफ्रेंड ने देखी अनुष्‍का की हनीमून फोटो, फिर तुरंत दिया कुछ ऐसा रिएक्‍शन

अनुष्‍का-विराट की हनीमून फोटो पर 1 घंटे में 9 लाख से ज्यादा लाइक, तेजी से हो रही वायरल

विराट-अनुष्का की शादी में एक मेहमान का खर्च था 1 करोड़, पूरी शादी का खर्च सुन दिमाग हिल जाएगा

क्या आप जानते हैं क‌ितने पढ़े-ल‌िखे हैं कांग्रेस के 49वें अध्यक्ष राहुल गांधी, नाम भी बदलना पड़ा

संसद परिसर में हुआ कुछ ऐसा कि आडवाणी के लिए भीड़ से बाहर आए राहुल और पकड़ लिया उनका हाथ

बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए कंडोम देख मां ने कर दिया केस, अब कोर्ट ने लिया ऐसा फैसला