शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

विरोध के बावजूद भाजपा उम्मीदवार रमेश कौशिक की वोटों से भरी झोली

रोहतक ब्यूरो Updated Sat, 25 May 2019 12:08 AM IST
जींद। लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा प्रत्याशी रमेश कौशिक को जींद जिला की तीनों विधानसभाओं में बेशक विरोध का सामना करना पड़ा, लेकिन चुनाव परिणाम पर इसका कोई असर नहीं पड़ा। जिन गांवों में रमेश कौशिक का विरोध हुआ, वहां भी वे जीत कर निकले हैं। रधाना, पोली व भंभेवा गांवों के बूथों पर भाजपा को कांग्रेस से कम वोट मिले हैं।
विज्ञापन
सफीदों विस क्षेत्र के गांवों में कौशिक का हुआ था विरोध
गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के दौरान सफीदों विधानसभा क्षेत्र के गांवों में भाजपा उम्मीदवार रमेश कौशिक को सबसे अधिक विरोध का सामना करना पड़ा था। सोनीपत लोकसभा के तहत आने वाले तीनों विधानसभा क्षेत्रों में से सफीदों में ही रमेश कौशिक को सबसे अधिक मत मिले हैं। रमेश कौशिक का चुनाव प्रचार के दौरान सबसे अधिक विरोध मुआना गांव में हुआ।
भूपेंद्र हुड्डा और कौशिक को इन बूथों पर मिले इतने मत
भाजपा के जिलाध्यक्ष अमरपाल राणा इसी गांव से आते हैं। विरोध के बावजूद मुआना गांव के सभी नौ मतदान केंद्रों पर रमेश कौशिक को भूपेंद्र हुड्डा से अधिक मत मिले हैं। मुआना गांव के बूथ नंबर एक पर रमेश कौशिक को 566 व भूपेंद्र हुड्डा को महज 44 मत मिले हैं। बूथ नंबर दो पर रमेश कौशिक को 378 तो भूपेंद्र हुड्डा को 100 मत मिले। बूथ नंबर तीन पर रमेश कौशि को 675 तो भूपेंद्र हुड्डा को 66 मत मिले। बूथ नंबर चार पर रमेश कौशिक को 431 तो भूपेंद्र हुड्डा का 124 मत मिले। इसी प्रकार बूथ नंबर पांच पर भाजपा के रमेश कौशिक को 492 और कांग्रेस के भूपेंद्र हुड्डा को 152 मत मिले। बूथ नंबर छह पर रमेश कौशिक 682 और भूपेंद्र हुड्डा को 55 मत ही मिले। बूथ नंबर सात पर रमेश कौशिक को 566 और भूपेंद्र हुड्डा को 97 मत मिले। बूथ नंबर आठ पर भाजपा को 647 और कांग्रेस को 82 मत मिले। बूथ नंबर नौ पर रमेश कौशिक को 689 और भूपेंद्र हुड्डा को 80 मत मिले हैं। मुआना गांव में कुल 6668 मत पोल हुए और इनमें से 5126 मत अकेले रमेश कौशिक को मिले हैं। इसी प्रकार मलार गांव में कुल 1542 मतों में से रमेश कौशिक को 1107 मत मिले हैं। भंभेवा गांव में भी रमेश कौशिक का विरोध हुआ था, लेकिन यहां एक बूथ पर उन्हें भूपेंद्र हुड्डा से कम वोट मिले हैं। रधाना गांव में भी रमेश कौशिक का विरोध हुआ था। यहां बूथ नंबर 34 कौशिक को हुड्डा से कम वोट मिले। कौशिक को 343 तो हुड्डा को 510 मत मिले हैं। वहीं बूथ नंबर 35 पर हुड्डा को महज 64 और कौशिक को 465 मत मिले। बूथ नंबर 36 पर हुड्डा को 306 और कौशिक को 522 मत मिले। पोली गांव के तीन में से एक बूथ पर भाजपा को हार मिली है। बूथ नंबर 183 पर भूपेंद्र हुड्डा को 189 व रमेश कौशिक को 515 मत मिले हैं। वहीं बूथ नंबर 184 पर रमेश कौशिक को 265 और भूपेंद्र हुड्डा को 355 मत मिले हैं। बूथ नंबर 185 पर भूपेंद्र हुड्डा को महज 46 और रमेश कौशिक को 291 मत मिले हैं।
पिंडारा गांव में विरोध रहा बेअसर
पांडू पिंडारा गांव में जनसंपर्क के दौरान कुछ लोगों ने सांसद रमेश कौशिक का विरोध किया था, लेकिन यहां विरोध बेअसर रहा। पिंडारा गांव के बूथ नंबर 41 पर भूपेंद्र हुड्डा को 146 व रमेश कौशिक को 364 मत मिले। बूथ नंबर 42 पर भूपेंद्र हुड्डा को 158 व रमेश कौशिक को 179 मत मिले।
भंभेवा में दिखा विरोध का असर
भंभेवा गांव के कुल 2365 मतों में से कांग्रेस को 1444 मत मिले हैं, जबकि भाजपा को 1002 मत मिले हैं। भंभेवा गांव में कुल चार मतदान केंद्र थे। इनमें से बूथ नंबर 187 पर भूपेंद्र हुड्डा को 301 और रमेश कौशिक को 202 मत मिले हैं। बूथ नंबर 188 पर भूपेंद्र हुड्डा को 431 और रमेश कौशिक को 124 मत मिले हैं। बूथ नंबर 189 पर भूपेंद्र हुड्डा को 358 और रमेश कौशिक को 314 मत मिले। बूथ नंबर 190 पर भूपेंद्र हुड्डा को 54 व रमेश कौशिक को 362 मत मिले हैं।
विज्ञापन

Recommended

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।