CM त्रिवेंद्र को PMO से आए फोन पर कांग्रेस ने साधा निशाना

Home›   City & states›   suspected call from pmo

टीम डिजिटल/ अमर उजाला, देहरादून

trivendra singh rawat

प्रधानमंत्री कार्यालय में खुद को तैनात एक अधिकारी बताकर अज्ञात व्यक्ति द्वारा मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को लगातार फोन करने के मामले में कांग्रेस ने निशाना साधा है।  कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता मथुरा दत्त जोशी ने कहा कि फोन करने वाले का नाम मुख्यमंत्री को सार्वजनिक करना चाहिए। कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय से मुख्यमंत्री को फोन आना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण बात है।  यह मामला बेहद गंभीर है। बता दें कि प्रधानमंत्री कार्यालय में खुद को तैनात एक अधिकारी बताकर किसी ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को लगातार फोन किए। फोन करने वाले ने कुछ सिफारिशी काम भी बताए। मुख्यमंत्री को शक हुआ तो उन्होंने पीएमओ में पड़ताल करवाई। पता चला कि उस नाम का कोई भी व्यक्ति पीएमओ में है ही नहीं। मुख्यमंत्री ने संबंधित व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। हाल ही में मुख्यमंत्री दिल्ली में केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात करने गए थे। उसी दौरान उमेश कुमार नाम के एक व्यक्ति ने उनके निजी मोबाइल पर फोन किया। फोन उसने पर खुद को प्रधानमंत्री कार्यालय में तैनात अधिकारी बताया। इस पर त्रिवेंद्र रावत ने उनसे फोन करने की वजह पूछी, तो उसने विधानसभा में बनाई जाने वाली समिति में एक परिचित को रखने की सिफारिश की। मुख्यमंत्री को फर्जी फोन की बात से शासन में खलबली मच गई। आनन-फानन में संबंधित व्यक्ति के मोबाइल नंबर की पड़ताल शुरू की गई है। एक व्यक्ति मुझे पीएमओ के नाम से कई बार फोन किया था। जब जानकारी कराई तो उस नाम का कोई भी व्यक्ति पीएमओ में तैनात नहीं मिला। इस पर मैंने संबंधित व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। - त्रिवेंद्र सिंह रावत, मुख्यमंत्री
Share this article
Tags: suspected call , pmo , prime minister office , trivendra singh rawat ,

Most Popular

पाकिस्तान को भारत की चेतावनी समेत देश और दुनिया की बड़ी खबरें

शराब पीने के बाद इन 18 बॉलीवुड सिलेब्स को नहीं रहता होश, यार-दोस्त छोड़कर आते हैं घर तक

विश्व प्रसिद्ध इस मंदिर में हुए हैं अद्भुत चमत्कार, भक्तों से सुनिए उनकी आंखों देखी...

7 लाख करोड़ का स्तर छूने वाली पहली कंपनी बनी टीसीएस, आरआईएल को मिला दूसरा स्थान

बिजली की बढ़ी मांग पूरी करने को हरकत में केंद्र, आदेश जारी कर कहा इन कंपनियों को मिले प्राथमिकता

एबी डीविलियर्स 14 साल के करियर में हासिल नहीं कर पाए ये 5 उपलब्धि, ताउम्र रहेगा मलाल