एक मां ने अपनी नवजात बेटी संग किया ऐसा सुलूक, पढ़ेंगे तो यकीन नहीं होगा

Home›   City & states›   mother does brutal act with new born daughter

ब्यूरो / अमर उजाला, श्रीनगर

शौचालय में एक अज्ञात महिला नवजात शिशु को छोड़कर फरारPC: सांकेतिक चित्र

उत्तराखंड के श्रीनगर गढ़वाल में एक मां ने अपनी नवजात बेटी से ऐसा सुलूक किया कि आपको यकीन नहीं होगा। श्रीनगर राजकीय मेडिकल कॉलज/बेस अस्पताल के एनआईसीयू (नेटल इंसेटिव केयर यूनिट) के शौचालय में एक अज्ञात महिला नवजात शिशु को छोड़कर फरार हो गई। नवजात शिशु बालिका है। उसकी स्थिति सामान्य है। प्रसूति विभाग का स्टाफ नवजात की देखरेख कर रहा है। कॉलेज से संबंधित बेस अस्पताल प्रशासन महिला की पहचान के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रहा है।

सुबह साढ़े 5 बजे लोगों ने किसी बच्चे की रोने की आवाज सुनी

नवजात बच्ची की स्थिति सामान्य

कॉलेज के एनआईसीयू वार्ड के बाहर गैलरी में सोमवार सुबह लगभग साढ़े 5 बजे लोगों ने किसी बच्चे की रोने की आवाज सुनी। शुरू में उन्हे लगा कि शायद वार्ड में कोई बच्चा रो रहा होगा। इसी दौरान एक महिला शौचालय की ओर गई, तो उसने एक नवजात को रोते हुए देखा। अस्पताल की नर्स उसे प्रसूति वार्ड में ले आई। जहां उसकी सफाई कर कपड़े पहनाए गए। पुलिस को भी इस प्रकरण की सूचना दी गई। प्रसूति वार्ड की सिस्टर तेजवीरी चौधरी ने बताया कि बच्ची का जन्म सुबह ही हुआ है। उसका वजन लगभग ढाई किलोग्राम है। उसकी स्थिति सामान्य है।   इधर, अस्पताल प्रशासन संभावित समय को देखते हुए सीसीटीवी फुटेज को देखकर बच्ची को छोडने वाली मां का पता लगाने की कोशिश कर रही है। सीसीटीवी फुटेज में सुबह लगभग 6 बजे दो महिलाएं दिख रही हैं। जिनमें से एक पर संदेह है। अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डा. सुरेश जैन ने बताया कि जांच की जा रही है। बच्ची का स्वास्थ्य ठीक है। वह स्टाफ की निगरानी में है।    

पूरी तैयारी के साथ छोड़ा अस्पताल में

एनआईसीयू वार्ड का रास्ता आसान नहीं

एनआईसीयू के शौचालय में नवजात को छोडने वाली महिला पूरी तैयारी और प्लान के साथ अस्पताल आई होगी। महिला यह चाहती थी कि प्रसव के बाद उसका नवजात शिशु सुरक्षित हाथों में चले जाए। इसलिए उसने नवजात बच्चों के वार्ड के शौचालय को चुना। ताकि प्रसव के बाद बच्चे को किसी प्रकार की दिक्कत न हो और भविष्य में उसको कोई अपना ले।   ऐसा भी संदेह जताया जा रहा है कि प्रसूता के साथ जो महिला आई होगी, वह अस्पताल और प्रसव के बारे में सब कुछ जानती होगी। क्योंकि एनआईसीयू वार्ड का रास्ता आसान नहीं है। उसको पता था कि यह हलचल कम रहती है प्रसव के बाद वह आसानी से फरार हो सकते हैं। प्रसव कराने के बाद ब्लेड से गर्भनाल काटी गई है। जिसये यह भी लग रहा है कि प्रसूता के साथ आई महिला दाई हो सकती है। इसके अलावा उन्होंने गायनी वार्ड में भी पंजीकरण नहीं कराया है। ताकि पहचान न हो सके।    

कई लोग बच्ची को गोद लेने आगे आए

परिवार के दबाव में वह नवजात को छोडने को मजबूर हुई या लोकलाज का डरPC: Baby Physio London

प्रसूति वार्ड में काम करने वाली नर्सों का मानना है कि यह काम पहली बार बच्चे को जनने वाली महिला का नहीं हो सकता है। या तो महिला की पहले से बेटियां हैं और परिवार के दबाव में वह नवजात को छोडने को मजबूर हुई। या फिर लोकलाज की वजह से उसने यह काम किया हो।    गायनी वार्ड के आगे लगे कैमरे में दो महिलाएं सुबह 6.05 बजे दिखाई दे रही हैं। इसमें एक महिला वार्ड की ओर चली जाती है। जबकि दूसरी बैंच पर बैठ जाती है। बैंच पर बैठी महिला बेचैन से दिखाई देती है। वह बार-बार अंदर की ओर देखती है। जबकि दूसरी महिला वापस आ जाती है, तो वह उसके साथ चली जाती हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि वह बच्ची को शौचालय में छोडने के बाद दोबारा यह पुख्ता करने आए कि बच्ची को किसी ने उठा लिया है या नही। बहरहाल, जहां बच्ची को उसकी मां ने ठुकरा दिया। वहीं कई लोग उसको गोद लेने आगे आ रहे हैं।  
Share this article
Tags: mother left newborn daughter , brutal mother , dehradun news , uttarakhand news , sri nagar news ,

Most Popular

'हेट स्टोरी 4' के नए गाने में उर्वशी रौतला ने तोड़ी सारी हदें, सोशल मीडिया पर वायरल हुए स्टीमी सीन

क्रिकेटर्स की पत्नियां, इनकी खूबसूरती के आगे नहीं टिकता कोई

नहीं बंद होगा टीसीएस का लखनऊ सेंटर, बढ़ेगी क्षमता

निकाह से पहले हुई हल्दी की रस्म, कल शादी के बंधन में बंधेगी 'ससुराल सिमर..' की ये जोड़ी

12 दिनों में ही फीकी पड़ी अक्षय कुमार की 'पैडमैन', इस फिल्म ने बनाया नया रिकॉर्ड

भीषण सड़क हादसे में भाजपा विधायक लोकेंद्र सिंह सहित पांच की मौत