देवी दुर्गा को विदाई देने  उमड़ा श्रद्धालुओं का रेला

Home›   City & states›   Goddess Durga worshipped

Amarujala Bureau

Goddess Durga worshippedPC: अमर उजाला

जिले की ऐतिहासिक दुर्गा पूजा महोत्सव का यूं तो बुधवार की रात ही समापन हो गया। बृहस्पतिवार को सुबह से लेकर शाम तक ट्रैक्टर ट्रॉलियों को सजाकर देवी प्रतिमाओं को विसर्जन के लिए उस पर सवार किया गया। देर रात करीब 11 बजे देवी प्रतिमाओं की विसर्जन शोभा यात्रा निकाली गई। बृहस्पतिवार की रात भी शहर में महोत्सव जैसा माहौल रहा। शाम से देर रात तक रथ पर सवार मां अंबे के दर्शन को दर्शनार्थियों का तांता लगा रहा। शोभा यात्रा में गाजे-बाजे व डीजे की धुन पर अबीर-गुलाल उड़ाते मां के भक्त जयकारा लगाते हुए धीरे-धीरे सीताकुंड घाट की ओर बढ़ते रहे। बृहस्पतिवार की देर शाम ठठेरी बाजार की मां दुर्गा (बड़ी दुर्गा) की पहली मूर्ति विसर्जित हुई। इसके बाद एक-एक कर देवी प्रतिमाओं का विसर्जन अश्रुपूरित नेत्रों के बीच किया गया। विसर्जन के दौरान शहर में माता रानी की शोभा यात्रा के दर्शन व आरती को श्रद्घालुओं का बृहस्पतिवार की सारी रात व शुक्रवार को पूरा दिन तांता लगा रहा। सीताकुंड घाट पर मूर्ति विसर्जन कार्यक्रम भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शनिवार को दिन भर चलेगा। मेले की व्यवस्था को लेकर जिले का प्रशासनिक अमला मुस्तैद रहा। बृहस्पतिवार शाम को सीताकुंड घाट पर मां के अंतिम दर्शन को दर्शनार्थियों का रेला उमड़ पड़ा। शोभा यात्रा के दौरान पूरा शहर मेले में तब्दील रहा। 
Share this article
Tags: ,

Most Popular

एक्स ब्वॉयफ्रेंड ने देखी अनुष्‍का की हनीमून फोटो, फिर तुरंत दिया कुछ ऐसा रिएक्‍शन

अनुष्‍का-विराट की हनीमून फोटो पर 1 घंटे में 9 लाख से ज्यादा लाइक, तेजी से हो रही वायरल

क्या आप जानते हैं क‌ितने पढ़े-ल‌िखे हैं कांग्रेस के 49वें अध्यक्ष राहुल गांधी, नाम भी बदलना पड़ा

युवी के बाद जडेजा ने भी लगाए एक ही ओवर में 6 छक्के, T20 में ठोके 159 रन

Bigg Boss 11: सपना चौधरी के बाद एक और चौंकाने वाला फैसला, घर से बेघर हो गया ये विनर कंटेस्टेंट

बेटी अपनी सहेलियों को करती थी बेहोश, बाप करता था रेप, ऐसे चलता था 'घिनौना खेल'