बेटा बना हैवान, पिता को फावड़े से काटा

Home›   City & states›   Son made haywan, father kicked with shovel

ब्यूरो/अमर उजाला सिद्धार्थनगर

Son made haywan, father kicked with shovelPC: amarujala

इटवा। स्थानीय थाना क्षेत्र के गुलरिया गांव में बुधवार की देर रात एक व्यक्ति ने अपने पिता को फावड़े से काटकर मार डाला। खून से लथपथ हाल में छोड़कर मौके से फरार हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हत्या का कारण भूमि बेचने का विवाद से बताया जा रहा है। वहीं, पुलिस आरोपी की धर-पकड़ में जुट गई है। क्षेत्र के गुलरिहा गांव निवासी हकीकुल्लाह (75) पुत्र जिकरी के तीन बेटे हैं। संपत्ति को लेकर तीनों बेटे में विवाद चल रहा था। लोगों के मुताबिक हकीकुल्लाह अपनी छह बीघा खेती की भूमि बेचने के लिए किसी से बयाना लिया था। भूमि से मिलने वाले पैसे को वह मुंबई में रह रहे बड़े बेटे को किसी धंधे में लगाने के लिए देना चाह रहा था। इसे लेकर काफी दिनों से पिता व पुत्र में विवाद चल रहा था। बुधवार की रात छोटा बेटा गांव में कहीं वीडीओ (पर्दे पर दिखाई जाने वाली फिल्म) देखने गया हुआ था। घर पर हकीकुल्लाह व उसका मंझला बेटा अफसर अली (30) मौजूद थे। देर रात लगभग 10 बजे दोनों एक ही चारपाई पर बैठे हुए थे। इसी दौरान अफसर अली ने पिता से जमीन नहीं बेचने की बात की, जिस पर उसने मना कर दिया। उसने गुस्से में आकर बगल में रखा फावड़ा उठाया और कई बार पिता पर प्रहार कर दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, खून से लथपथ हालत में पिता को छोड़कर फरार हो गया। इस संबंध में थानाध्यक्ष इटवा रणधीर कुमार मिश्र का कहना है कि हत्या में प्रयोग की गई कुदाल बरामद कर ली गई है और लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। बेटे ने फावड़े से प्रहार कर  पिता की हत्या कर दी है। आरोपी के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

एक्स ब्वॉयफ्रेंड ने देखी अनुष्‍का की हनीमून फोटो, फिर तुरंत दिया कुछ ऐसा रिएक्‍शन

विराट-अनुष्का की शादी में एक मेहमान का खर्च था 1 करोड़, पूरी शादी का खर्च सुन दिमाग हिल जाएगा

अनुष्‍का-विराट की हनीमून फोटो पर 1 घंटे में 9 लाख से ज्यादा लाइक, तेजी से हो रही वायरल

रायन के माली ने खोला बहुत बड़ा राज, हत्या के वक्त आसपास भी नहीं था बस कंडक्टर

संसद परिसर में हुआ कुछ ऐसा कि आडवाणी के लिए भीड़ से बाहर आए राहुल और पकड़ लिया उनका हाथ

चश्मदीद की जुबानी, प्रद्युम्न की हत्या वाले दिन की कहानी