बेरोजगारी के बाद आंदोलन की राह पर शिक्षा प्रेरक

Home›   City & states›   बेरोजगारी के बाद आंदोलन की राह पर शिक्षा प्रेरक

Lucknow Bureau

बैठक कर बनाई रणनीति, मुख्यमंत्री से मिलकर बताएंगे पीड़ा गोंडा। साक्षर भारत मिशन योजना की समाप्ति के बाद इस योजना के तहत लोक शिक्षा केंद्रों पर कार्यरत जिले के 21 सौ शिक्षा प्रेरक बेरोजगार हो गए हैं। बेरोजगारी के बाद साक्षरता कर्मी एसोसिएशन के बैनर तले गुरुवार को शिक्षा प्रेरकों ने नगर के राम मनोहर लोहिया पार्क में बैठक की और सरकार पर तानाशाही का आरोप लगाते हुए इस फैसले के खिलाफ आंदोलन की रणनीति तैयार की। बैठक में मुख्यमंत्री से मिलकर अपनी पीड़ा बताने का फैसला किया गया। रामनोहर लोहिया पार्क में गुरुवार को आयोजित इस बैठक की अध्यक्षता एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष रणजीत प्रताप सिंह ने की। बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार के तानाशाही भरे फैसले ने जिले के 21 सौ प्रेरकों को बेरोजगार कर दिया है। इस फैसले को कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। जिला प्रभारी राजन मिश्रा ने कहा कि इस समस्या के समाधान के लिए स्थानीय स्तर पर जनप्रतिनिधियों से मुलाकात की जायेगी और उनके माध्यम से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलकर अपनी पीड़ा बताई जायेगी।जिलाध्यक्ष आरती तिवारी ने कहा कि पिछले 15 माह से प्रेरकों को मानदेय भी नहीं दिया गया। उन्होने प्रेरकों से बड़े आंदोलन की तैयारी में जुटने की अपील की। बैठक में मनोज तिवारी, संजू मिश्रा, विनीत सिंह, देवकीनंदन पांडेय समेत बड़ी संख्या में प्रेरक मौजूद रहे।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

संसद परिसर में हुआ कुछ ऐसा कि आडवाणी के लिए भीड़ से बाहर आए राहुल और पकड़ा लिया उनका हाथ

कंडोम कंपनी ने विराट-अनुष्का के लिए भेजा खास मैसेज, जानकर शर्मा जाएंगे नए नवेले दूल्हा-दुल्हन

विराट-अनुष्का की शादी में एक मेहमान का खर्च था 1 करोड़, पूरी शादी का खर्च सुन दिमाग हिल जाएगा

Bigg Boss 11: वीकेंड पर सलमान पलट देंगे पूरा गेम, विनर कंटेस्टेंट को बाहर निकाल लव को करेंगे सेफ

न्यूड आदमी के ऊपर बैठकर टीवी की इस बहू ने खिंचवाई फोटो, काम नहीं मिल रहा या वजह कुछ और

विदाई की रस्म में फूट-फूटकर रोईं अनुष्का, वीडियो में देखें कैसे विराट ने संभाला