विज्ञापन

चार सभासदों को अदालत ने सबूत के साथ किया तलब

Kanpur Bureau Updated Wed, 12 Sep 2018 11:12 PM IST
मंदाकिनी मामला: चार सभासदों को अदालत ने सबूत के साथ किया तलब
विज्ञापन
अमर उजाला ब्यूरो
चित्रकूट। मंदाकिनी नदी में गोबर डालने के आरोप पर गोशाला संचालक अशोक कुमार गुप्ता ने तीन वर्तमान व एक पूर्व सभासद के खिलाफ परिवाद वाद दाखिल किया है। इस मामले में सीजेएम ने चारों को तलब किया है। इनसे आरोपों के सबूत के साथ 23 अक्टूबर को हाजिर न होने पर सम्मन जारी करने के आदेश दिए हैं।
वादी गोशाला संचालक ने बताया कि वह त्रिवेणी गोशाला संचालक हैं। उन पर सभासद सुशील कुमार श्रीवास्तव, अनुज निगम, लवकुश यादव व पूर्व सभासद जवाहर सोनी ने आरोप लगाया कि उनकी गोशाला का गोबर मंदाकिनी नदी में जाता है। नदी की जमीन पर अतिक्रमण किया गया है। उनके खिलाफ शहर में धरना-प्रदर्शन अनशन कर उच्चाधिकारियों को ज्ञापन दिया गया। इसके बाद इन्होंने सोशल मीडिया पर षडयंत्र कर दुष्प्रचार किया। लगातार सोशल मीडिया में उनके खिलाफ अनर्गल बयानबाजी व भ्रामक जानकारी दी है। उन्हाेंने दावा किया है कि गोशाला का गोबर नदी में नहीं जाता। इसके लिए गोशाला में गोबर गैस के दो टैंक व तीन चेंबर बने हैं।
इसी मामले में वादी ने अदालत का दरवाजा खटखटाया है। चारों के खिलाफ सीजेएम कोर्ट ने याचिका स्वीकार कर तलब किया है। बुधवार को वादी अशोक कुमार गुप्ता ने बताया कि सीजेएम कोर्ट ने चारों आरोपियों को 23 अक्टूबर को साक्ष्य के साथ मौजूद रहने को कहा है। गौरतलब है कि पहले इन्हीं सभासदों ने गोशाला संचालक अशोक कुमार गुप्ता पर मंदाकिनी में गोबर डालने व नदी की जमीन पर अतिक्रमण करने का आरोप लगाया था। इन्होंने हाईकोर्ट में भी याचिका दाखिल की है।

Recommended

Spotlight

Most Popular

Related Videos

विज्ञापन
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।