शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

Uttar Pradesh Election result : यूपी में महागठबंधन की चुनौती तोड़ जश्न में डूबे भाजपाई

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Updated Thu, 23 May 2019 09:31 PM IST
जश्न मनाते भाजपा कार्यकर्ता। - फोटो : amar ujala
लोकसभा चुनाव परिणाम के लिए अब इंतजार खत्म हो गया है। अब से कुछ ही देर में रुझान आने शुरू हो जाएंगे। जिसके साथ ही अगले पांच साल तक केंद्र में किसकी सरकार होगी ये भी स्पष्ट हो जाएगा।

इन चुनाव में सबसे महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश है। जहां पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं। यहां भाजपा का सीधा मुकाबला सपा-बसपा गठबंधन से है।

एग्जिट पोल में हालांकि भाजपा को आगे दिखाया गया है लेकिन जमीनी स्तर पर गठबंधन, भाजपा को कड़ी टक्कर देता हुआ नजर आ रहा है।

सभी अफसर सुबह छह बजे ही मतगणना के लिए पहुंच गए हैं। जिसके लिए कड़े सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं।
विज्ञापन

लखनऊ व मोहनलालगंज संसदीय सीट की स्थिति हर चक्र के बाद इलेक्ट्रॉनिक्स डिस्पले बोर्ड पर दिखेगी। सभी नौ काउंटिंग व आरओ कक्ष में इसकी व्यवस्था होगी।

जिला निर्वाचन अधिकारी व डीएम कौशल राज शर्मा ने बताया कि प्रत्याशियों के एजेंटों को मतगणना कक्ष में एक बार प्रवेश के बाद काउंटिंग खत्म होने तक निकलने की अनुमति नहीं होगी। विशेष परिस्थिति में उसे आरओ के समक्ष इंट्री रजिस्टर पर विवरण भरकर अनुमति लेनी होगी।

17वीं लोकसभा चुनाव के परिणाम के लिए मतगणना शुरू हो गई है। जिसके शुरुआती रुझान आने शुरू हो गए है। सबसे पहले पोस्टल बैलेट गणना की जा रही है। अलग-अलग पार्टी के प्रत्याशी अपनी जीत के दावे कर रहे हैं। गोरखपुर से भाजपा प्रत्याशी रवि किशन ने मतगणना से पहले पूजन किया और अपनी जीत की दुआ मांगी। मतगणना के शुरुआती रुझानों में भाजपा को बढ़त मिलती दिखाई जा रही है।

यूपी में अलग-अलग मतदान केंद्रों पर मतगणना शुरू हो गई है। सबसे पहले पोस्टल बैलेट की गिनती की जा रही है। अमेठी में पोस्टल बैलट पर लगे कंप्यूटर का सर्वर फेल हो गया। जिस पर मतदान कर्मियों ने जिला निर्वाचन अधिकारी से इसकी शिकायत की। वहीं, सुल्तानपुर, रायबरेली व अन्य जिलों में मतगणना जारी है।

यूपी में भाजपा को गठबंधन से कड़ी चुनौती मिलने की उम्मीद की जा रही थी लेकिन अभी तक आए रुझानों में भाजपा प्रदेश की 35 सीटों पर आगे है जबकि सपा-बसपा महागठबंधन सिर्फ 7 सीटों पर ही बढ़त बना सका है। केंद्र में सत्ता के लिए यूपी को बेहद अहम माना गया है। यहां 80 लोकसभा सीटे हैं। पीलीभीत में वरुण गांधी आगे चल रहे हैं। वहीं, अमेठी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी स्मृति ईरानी से पीछे चल रहे हैं।

लखनऊ में भाजपा प्रत्याशी व केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह 6203 वोटों से आगे। उनके पीछे सपा बसपा गठबंधन प्रत्याशी पूनम सिन्हा 2316 वोटों के साथ। कांग्रेस उम्मीदवार आचार्य प्रमोद कृष्णम 726 वोटों के साथ तीसरे नंबर पर बने हैं। 

वहीं मोहनलालागंज में बसपा 4194 वोटों के साथ आगे चल रही है। भाजपा 3382 वोटों के साथ दूसरे नंबर पर है। वहीं कांग्रेस 568 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर है।

- फोटो : social Media
यूपी की 80 सीटों पर अब तक आए रुझानों में भाजपा की लहर नजर आ रही है। प्रदेश की 60 सीटों पर भाजपा बढ़त पर है जबकि गठबंधन सिर्फ 17 सीटों पर ही बढ़त बना सका है। वहीं, कांग्रेस दो सीटों पर आगे है। बहराइच लोकसभा सीट पर भाजपा के अक्षयबर लाल गौड़ 91420 वोटों के साथ सपा प्रत्याशी शब्बीर अहमद वाल्मीकि से करीब 30 हजार वोटों से आगे हैं। जबकि श्रावस्ती सीट पर गठबंधन प्रत्याशी राम शिरोमणि वर्मा आगे चल रहे हैं। फैजाबाद लोकसभा सीट पर भाजपा के लल्लू सिंह 8215 वोटों से आगे हैं। रायबरेली सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी सोनिया गांधी भाजपा प्रत्याशी दिनेश प्रताप सिंह से 17602 मतों से आगे चल रही हैं। अंबेडकरनगर लोकसभा सीट पर बसपा के रितेश पांडेय 96,492 वोटों के साथ भाजपा प्रत्याशी मुकुट बिहारी वर्मा से करीब 26377 वोटों से आगे चल रहे हैं।

यूपी में सपा-बसपा व कांग्रेस कार्यालयों पर पसरा सन्नाटा। - फोटो : amar ujala
यूपी में चुनाव परिणाम के रुझान का असर सपा-बसपा व कांग्रेस के कार्यालय पर भी नजर आ रहा है। तीनों ही पार्टियों के कार्यालयों में सन्नाटा छाया हुआ है। जो कि दिखाता है महागठबंधन का दम भाजपा के आगे बिल्कुल भी नहीं चल रहा है। अभी तक आए रुझान में भाजपा 55 सीटों पर आगे है जबकि सपा-बसपा गठबंधन सिर्फ 22 सीटों पर ही बढ़त मिलती दिख रही है। आपको बता दें कि इन चुनाव में सपा-बसपा व रालोद ने गठबंधन किया था। जबकि कांग्रेस के लिए अमेठी व रायबरेली सीटें छोड़ी गई थीं।
 

फैजाबाद संसदीय सीट की मतगणना का रुझान फिर पुराना इतिहास दोहराता दिख रहा है। भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह 113482 मतों के साथ गठबंधन प्रत्याशी आनंद सेन यादव से करीब 26 हजार वोटों से आगे हैं। हालांकि, रुदौल, मिल्कीपुर और बीकापुर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा पिछड़ती हुई नजर आ रही है लेकिन ओवरऑल बढ़त में गठबंधन प्रत्याशी पिछड़ते हुए नजर आ रहे हैं। वहीं, कांग्रेस प्रत्याशी निर्मल खत्री को जोरदार झटका लगा। पांचों विधानसभा क्षेत्रों में हजार का आंकड़ा छूना भी उनके लिए मुश्किल नजर आया।

गोंडा लोकसभा सीट पर मतगणना के पहले ही राउंड से भाजपा के कीर्तिवर्द्घन सिंह ने बढ़त बना ली। वह पहले ही राउंड में साढ़े आठ हजार वोटों से आगे हुए तो बढ़ते पारे के साथ 12 राउंड तक 50 हजार मतों से सपा प्रत्याशी विनोद कुमार सिंह उर्फ पंडित सिंह से आगे निकल गए। इसी तरह कैसरगंज से भाजपा प्रत्याशी बृजभूषण शरण सिंह पहले राउंड में 11 हजार वोटों से आगे हुए लेकिन 12 वें राउंड तक 63 हजार मतों से अपने निकटतम बसपा प्रत्याशी चन्द्रदेव राम यादव से बढ़त बना ली। मतों की गणना में भाजपा ने शुरुआत में बढ़त बना ली तो किसी भी राउंड में कदम नहीं डगमगाए। मतों की गणना में शुरू से बनी भाजपा की बढ़त लगातार जारी है।

लोकसभा चुनाव 2019 के परिणाम पक्ष में आने के साथ ही भाजपा कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाना शुरू कर दिया है। जीत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर पूरे देश को बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट किया कि सबका साथ+ सबका विकास + सबका विश्वास= विजयी भारत। प्रधानमंत्री मोदी आज शाम देश को संबोधित करेंगे।

यूपी में सपा-बसपा महागठबंधन से मिल रही कड़ी चुनौती के बाद भी भाजपा को 60 से ज्यादा सीटों पर बढ़त मिल रही है। पार्टी की जीत पर यूपी सरकार में केंद्रीय मंत्री सिद्घार्थनाथ सिंह ने मतदाताओं का आभार जताते हुए कहा कि प्रदेश की जनता ने जातिवाद के गठजोड़ को हरा दिया है और विकास को वोट किया है। उन्होंने कहा कि अगले पांच वर्षों भारत विकास की नई ऊंचाइयां छुएगा।



 
विज्ञापन

Recommended

lok sabha election 2019 election 2019 general election 2019 lok sabha chunav result 2019

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।