शहर चुनें

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

विज्ञापन

पुलिस लाठीचार्ज के विरोध में किसानों ने की पंचायत, फिर शुरू होगा धरना

ब्यूरो/अमर उजाला, खंदौली (आगरा) Updated Fri, 16 Sep 2016 03:06 AM IST
- फोटो : amarujala
यमुना एक्सप्रेसवे इंटरचेंज के समीप भूमि अधिग्रहण किसान संघर्ष समिति के तत्वावधान में चल रहे धरनास्थल पर बुधवार शाम रालोद महासचिव जयंत चौधरी की सभा के बाद भूख हड़ताल पर बैठे किसानों पर पुलिस लाठीचार्ज और धरना खत्म कराने के विरोध में गुरुवार शाम गांव पैंतखेड़ा में किसानों की पंचायत हुई। इसमें फिर से धरना शुरू करने का निर्णय लिया गया।
 
गुरुवार को खंदौली के ग्राम पैंतखेड़ा में किसानों की पंचायत हुई। इसमें कई राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी हिस्सा लिया। सादाबाद के पूर्व विधायक डाक्टर अनिल चौधरी ने कहा की जेपी और प्रशासन किसानों को कमजोर नहीं समझे। जरूरत पड़ने पर रालोद किसानों के साथ यमुना एक्सप्रेसवे पर जाम लगाएगा।

पूर्व मंत्री नरायन सिंह सुमन ने कहा कि चौधरी अजित सिंह ने हमेशा किसानों की लड़ाई लड़ी है। किसान संघर्ष समिति के रामवीर सिंह, महेश फौजी और हरीचंद ने कहा कि किसानों पर लाठीचार्ज करने वाले थाना इंचार्ज को तत्काल हटाया जाए।

उन्होंने कहा कि शुक्रवार को उसी स्थान पर किसान अपनी मांगों को लेकर फिर से धरना देंगे। भाजपा नेता रामप्रताप सिंह चौहान ने कहा कि किसानों की लड़ाई में भाजपा उनके साथ है। पंचायत में किसान नेता ब्रजेश चाहर, मालती चौधरी, संजय फैजदार, कप्तान सिंह चाहर, ओमप्रकाश, ब्रज वल्लभ वर्मा, डाक्टर नेत्रपाल सिंह, अरविंद मथुरिया, मानवेन्द्र जूरैल आदि मौजूद थे।
विज्ञापन

बैकफुट पर आई पुलिस, अनशनकारियों को छोड़ा

- फोटो : अमर उजाला
खंदौली। धरने पर बैठे किसानों पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दो अनशनकारियों रामजी उपाध्याय और दरोगा सिंह को हिरासत में लिया था। गुरुवार को भाजपाई पुलिस के खिलाफ मैदान में आ गए। इस पर पुलिस ने दोनों अनशनकारियों को एत्माददौला थाने से छोड़ दिया।

पंचायत में किसान और नेताओं में हुई नोकझोंक
पैंतखेड़ा में किसानों की पंचायत के दौरान भूख हड़ताल पर बैठने वाले किसान भोलाराम ने कहा कि रालोद ने धरने पर बैठे किसानों के लिए कुछ नहीं किया। इस पर पूर्व मंत्री नरायन सिंह सुमन की उनसे नोकझोंक हो गई। बाद में भोलाराम ने माफी मांगी तब मामला शांत हुआ।
विज्ञापन

Recommended

farmer resume protest agriculture farmer news jayant chaudhry ralod जयंत चौधरी सभा पुलिस लाठीचार्ज किसानों ने की पंचायत

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Recommended Videos

Related

Next
Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।