बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

शहर चुनें

19 डॉक्टरों समेत 45 स्वास्थ्य कर्मचारी संक्रमित, तीन डॉक्टरों ने परिजनों को खोया

अमर उजाला ब्यूरो Updated Fri, 07 May 2021 02:07 AM IST
विज्ञापन

विज्ञापन मुक्त विशिष्ट अनुभव के लिए अमर उजाला प्लस के सदस्य बनें

Subscribe Now
फ्रंट लाइन पर रहकर अपनी जान की परवाह किए बिना लोगों को कोरोना संक्रमण से ठीक करने वाले डॉक्टर भी कोरोना संक्रमण से बच नहीं पा रहे हैं। सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों में तैनात 3 डॉक्टर तो अपने परिवार के सदस्य खो चुके हैं। सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों के 5 बड़े अधिकारियों समेत 19 डॉक्टर कोरोना संक्रमण से जूझ रहे हैं। ऐसे में बड़ा सवाल यह खड़ा हो गया है कि लोगों को जीवन दान देने वाले डॉक्टर अब खुद जिंदगी से जंग लड़ रहे हैं। लोगों को कौन इस घड़ी से उभारेगा। कौन लोगों को इलाज देगा। अब तक 19 डॉक्टरों समेत 45 से अधिक स्वास्थ्य कर्मचारी संक्रमित हो चुके हैं।
कोरोना ने डॉक्टरों से पत्नी, पिता, माता का साथ छीना
कोरोना संक्रमण इस कदर गंभीर हो चुका है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि डॉक्टर खुद अपने परिवार के सदस्यों को नहीं बचा पा रहे हैं। समालखा अस्पताल में तैनात डॉ. पुनीत की 5 माह की गर्भवती पत्नी की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। वह पिछले एक सप्ताह से वेंटिलेटर पर थीं। डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. ललित वर्मा की मां और रेरकलां पीएचसी के इंचार्ज डॉ. अनीश के पिता की भी कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। मतलौडा पीएचसी के फार्मासिस्ट बलराज बुधवार को कोरोना से जंग हार ङगए।

एक ही स्वास्थ्य केंद्र के 14 स्वास्थ्य कर्मी मिले संक्रमित
अब कोरोना संक्रमण स्वास्थ्य केंद्रों पर भी ताला लगवा रहा है। मतलौडा पीएससी के फार्मासिस्ट की कोरोना से मौत हो गई । यहां 14 स्वास्थ्य कर्मी कोरोना संक्रमित मिले, अब पीएससी में काम करने वाले महज 10 कर्मचारी ही बचे हैं। इससे पहले सेक्टर 25 शहरी स्वास्थ्य केंद्र के भी आठ स्वास्थ्य कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं।
ये डॉक्टर हो चुके हैं कोरोना संक्रमित
डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. सुनील सुंदजा, डॉ. निशि जिंदल, डॉ. ललित वर्मा, एमएस डॉ. आलोक जैन, डिप्टी एमएस डॉ. अमित पोरिया, डॉ. सुरभि, डॉ. मोनिका, डॉ. ज्योति, डॉ. अमित कुमार, डॉ. नारायण डबास, डॉ. विशाल छाबड़ा, डॉ. कर्मबीर चोपड़ा, डॉ. दिनेश गौतम, डॉ. पुनीत, डॉ. नेहा बंसल, डॉ. वैभव गुलाटी, डॉ. दीपक गुप्ता, डॉ. कविता व डॉ. मनी कोरोना संक्रमित हो चुकी है।
इमरजेंसी की ड्यूटी के लिए बचे मात्र 5 डॉक्टर
स्वास्थ्य सेवाएं सबसे अधिक डॉक्टरों की कमी के कारण प्रभावित हो रही हैं। डॉक्टर लगातार कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। इमरजेंसी वार्ड में ड्यूटी करने के लिए मात्र 5 डॉक्टर ही बचे हैं। इनकी हर रोज इमरजेंसी में ड्यूटी लगाने से इनके स्वास्थ्य को भी खतरा हो गया है। इनके अलावा बाकी डॉक्टरों की ड्यूटी आइसोलेशन वार्ड, वैक्सीनेशन कार्यक्रम और सैंपलिंग में हैं।
प्रशासनिक काम देखने वाले सभी स्वास्थ्य अधिकारी कोरोना संक्रमित
सिविल अस्पताल का मुख्य प्रशासनिक कार्य देखने वाले लगभग सभी स्वास्थ्य अधिकारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। कोविड के नोडल अधिकारी डॉ. सुनील संदुजा, डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. निशि जिंदल, डॉ. ललित वर्मा, एमएस डॉ. आलोक जैन व डिप्टी एमएस डॉ. अमित पोरिया कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. नवीन सुनेजा की मां का देहांत हो गया। अब सबसे बड़ी दिक्कत अस्पताल के प्रशासनिक कार्य की देखरेख भी बन गई है। फिलहाल प्रशासनिक कार्यों की जिम्मेदारी नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. शालिनी मेहता को दी गई है। इनके ऊपर नेत्र रोगियों की ओपीडी करने का भी जिम्मा है। दूसरे नेत्र सर्जन की ड्यूटी कोरोना वैक्सीनेशन में है। हालांकि डिप्टी एमएस कोरोना संक्रमण से उभरकर काम पर लौट आए हैं।
विज्ञापन

Latest Video

Recommended

Next

अपना शहर चुनें

Top Cities
States

उत्तर प्रदेश

दिल्ली

उत्तराखंड

हिमाचल प्रदेश

जम्मू और कश्मीर

पंजाब

हरियाणा

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।