लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   US Justice Department imposes fine of 50 million doller on Indian pharmaceutical company

अमेरिकी न्याय विभाग ने भारतीय दवा कंपनी पर 5 करोड़ डॉलर का लगाया जुर्माना

एजेंसी, वाशिंगटन Published by: Kuldeep Singh Updated Thu, 25 Mar 2021 02:56 AM IST
सार

  • कैंसर की दवा बनाने वाली फ्रेजेनियस काबी ऑन्कोलॉजी लिमिटेड (एफकेओएल) को एफडीए कानूनों के उल्लंघन का दोषी पाया गया

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

अमेरिकी न्याय विभाग ने भारतीय दवा निर्माता कंपनी को रिकॉर्ड छिपाने और नष्ट करने का दोषी मानते हुए पांच करोड़ डॉलर का जुर्माना लगाया है। चूंकि किसी भी दवा को मंजूरी देने से पहले एफडीए जगह का निरीक्षण करती है और वर्ष 2013 में इस टीम ने प्लांट का निरीक्षण करते वक्त पाया कि कंपनी ने ना केवल जरूरी रिकॉर्ड छिपाए बल्कि उन्हें नष्ट भी किया।



कैंसर की दवा बनाने वाली फ्रेजेनियस काबी ऑन्कोलॉजी लिमिटेड (एफकेओएल) को एफडीए कानूनों के उल्लंघन का दोषी पाया गया। कंपनी पर तीन करोड़ डॉलर का आपराधिक जुर्माना लगाने के साथ दो करोड़ डॉलर का अतिरिक्त जुर्माना लगाया गया है।

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00