लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   UN warn India on corona Omicron variant, covid-19 delta variant caused of many deaths Similar situation again

आ सकती है तबाही: यूएन ने चेताया- भ्रम में न रहे भारत, पिछले साल हुई थीं 2.40 लाख से ज्यादा मौतें, फिर से बन रहे हालात

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: प्रांजुल श्रीवास्तव Updated Fri, 14 Jan 2022 08:31 AM IST
सार

भारत में पिछले साल अप्रैल-जून में 2,40,000 लोगों की मौत कोरोना के डेल्टा वैरिएंट की वजह से हुई थी। इस वैरिएंट ने आर्थिक हालातों को भी प्रभावित किया था।

कोरोना वायरस से मौतें
कोरोना वायरस से मौतें - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के बढ़ते संक्रमण के बीच भारत एक बार फिर उसी खतरे की तरफ बढ़ रहा है, जिसका मंजर पिछले साल देखा गया था। ऐसे में संयुक्त राष्ट्र ने भारत के लिए चेतावनी जारी की है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में पिछले साल अप्रैल-जून में 2,40,000 लोगों की मौत कोरोना के डेल्टा वैरिएंट की वजह से हुई थी। इस वैरिएंट ने आर्थिक हालातों को भी प्रभावित किया था। दोबारा से ठीक वैसे ही हालात भारत में बन रहे हैं। ऐसे में भ्रम में रहने की जरूरत नहीं है। 


'वैश्विक आर्थिक हालात एवं संभावनाएं'(डब्ल्यूईएसपी) फ्लैगशिप रिपोर्ट में कहा गया गया है कि कोरोना के बेहद संक्रामक ओमिक्रॉन स्वरूप के कारण संक्रमण की नई लहर चल पड़ी है। इसलिए यह महामारी एक बार फिर से आर्थिक हालातों और इंसानों को प्रभावित कर सकती है। 




वैश्विक सहयोग के बिना महामारी से निपटना असंभव
संयुक्त राष्ट्र में आर्थिक और सामाजिक मामलों की अवर महासचिव लियू झेनमिन ने कहा कि कोविड-19 से निपटना वैश्विक सहयोग के बिना संभव नहीं है। जब तक वैक्सीन सभी तक नहीं पहुंचेगी, तब तक महामारी वैश्विक अर्थव्यवस्था के सुधार के लिए सबसे बड़ा खतरा बनी रहेगी। भारत में स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, अब तक 154.6 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। कोरोना की दूसरी लहर ने देशभर में कहर बरपाया था।

अमेरिका में मचा हालाकार
संयुक्त राष्ट्र की यह रिपोर्ट तब सामने आई है, जब अमेरिका में ओमिक्रॉन वैरिएंट विकराल रूप धारण कर चुका है। हालात ये हो गए हैं कि कई राज्यों में मेडिकल ढांचा पूरी तरह से चरमरा गया है और व्हाइट हाउस को कई प्रांतों में सेना को उतारना पड़ा है। जानकारी के मुताबिक, अमेरिका में गुरुवार को अस्पतालों में पिछले 24 घंटे अंदर 1,42,388 मरीज भर्ती किए गए। हालात बेकाबू होते देखकर राष्ट्रपति जो बाइडन ने मिशिगन, न्यूजर्सी, न्यू मेक्सिको, न्यूयॉर्क, ओहायो और रॉड आईलैंड के अस्पतालों में मदद के लिए सैनिक रवाना किए हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00