लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Iran : Anti-Hijab Protest, Sister Of Iran Man Chops Hair on his Grave

Iran Hijab Row : ईरान में नहीं थम रहा हिजाब बवाल, हिंसा में मृत भाई की कब्र पर बहन ने बाल काटकर चढ़ाए

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, तेहरान Published by: सुरेंद्र जोशी Updated Mon, 26 Sep 2022 10:39 AM IST
सार

हिंसा में मारे गए ईरानी नागरिक जवाद हैदरी को दफनाए जाने का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें हैदरी की बहन भाई की कब्र पर अपने सिर के बाल काट कर ईरान सरकार की हिजाब नीति का विरोध करती नजर आ रही है। 

जावेद हैदरी की कब्र पर विलाप करते हुए बाल काटकर चढ़ाती बहन
जावेद हैदरी की कब्र पर विलाप करते हुए बाल काटकर चढ़ाती बहन - फोटो : video grab
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

ईरान में हिजाब विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा, बल्कि यह बढ़ता जा रहा है। मॉरल पुलिस द्वारा हिरासत में ली गई महसा अमीनी की मौत के बाद से शुरू हुआ आंदोलन उग्र रूप ले चुका है। अब एक वीडियो सामने आया है, जिसमें हिजाब विरोधी आंदोलन के दौरान हिंसा में मारे गए एक ईरानी व्यक्ति की बहन अपने भाई की कब्र पर बाल काटकर चढ़ाती नजर आ रही है। 



ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शनों में 41 से ज्यादा लोग मारे गए हैं। अब तक 700 से ज्यादा गिरफ्तार किए गए हैं। इस बीच, हिंसा में मारे गए ईरानी नागरिक जवाद हैदरी को दफनाए जाने का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें हैदरी की बहन भाई की कब्र पर अपने सिर के बाल काट कर ईरान सरकार की हिजाब नीति का विरोध करती नजर आ रही है। 


वीडियो में हैदरी की मौत से दुखी महिलाएं उसकी कब्र पर फूल चढ़ाती दिख रही हैं। वहीं, हैदरी की बहन फूलों से ढकी कब्र के ऊपर विलाप करती हुई अपने बालों को चढ़ाती है, उसके पीछे शोकाकुल महिलाएं खड़ी हैं। इस वीडियो को लेकर ईरानी पत्रकार और कार्यकर्ता मसीह अलीनेजाद ने कहा कि अपने बाल काटकर ईरानी महिलाएं दुख और आक्रोश प्रकट कर रही हैं। 
 

 

ईरान की मॉरल पुलिस निशाने पर

उधर, 22 साल की महसा अमीनी की मॉरल पुलिस की हिरासत में मौत का दुनियाभर में विरोध हो रहा है। सैकड़ों ईरानी महिलाएं सड़क पर उतरकर सरेआम अपने बाल काटकर अनूठे ढंग से सरकार की अनिवार्य हिजाब नीति का विरोध कर रही हैं। अमीनी अपने परिवार के साथ कार से कहीं जा रही थी, इसी दौरान उनकी कार का रोकर अंदर बैठी महसा व अन्य महिलाओं के हिजाब की जांच की गई। महसा को ठीक ढंग से हिजाब नहीं पहनने के चलते हिरासत में ले लिया गया था। इसके बाद उसकी कथित तौर पर पुलिस मारपीट से मौत हो गई। हालांकि, ईरान की मॉरल पुलिस का दावा है कि उसकी मौत हार्ट अटैक से हुई। इसे दुनियाभर में ईरान की निंदा हो रही है। 

विज्ञापन

फ्रांस में भी प्रदर्शन, लंदन में गिरफ्तारियां
उधर, ईरान में हिजाब अनिवार्य किए जाने के विरोध में फ्रांस की राजधानी पेरिस में भी प्रदर्शन किया गया। इस दौरान पुलिस व प्रर्दशनकारियों के बीच झड़प हो गई। पुलिस को पेरिस स्थित ईरान दूतावास की ओर बढ़ रहे सैकड़ों लोगों को रोकने के लिए आंसू गैस का इस्तेमाल करना पड़ा। दंगा विरोधी बल ने स्थिति नियंत्रित की। इस बीच, लंदन में पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार कर लिया, उग्र लोग ईरानी दूतावास की ओर बढ़ रहे थे। 

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00