लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Saudi Arabia is labor reforms to kafala sponsorship system came into effect Expat workers rejoice indian workers job change

खुशखबर : सऊदी अरब में इस बदलाव से लाखों भारतीयों को मिलेगा फायदा, अब अपनी मर्जी से बदल सकेंगे नौकरियां

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला, रियाद Published by: दीप्ति मिश्रा Updated Sun, 14 Mar 2021 11:03 AM IST
सार

  • सऊदी अरब में कफाला सिस्टम के कड़े प्रावधान खत्म हुए
  • सऊदी में आज से 'कफाला स्पॉन्सरशिप सिस्टम' लागू हुआ
  • एक करोड़ से अधिक प्रवासी मजदूरों को मिलेगा फायदा
  • अब प्रवासी मजदूर अपनी मर्जी से बदल सकेंगे नौकरी

Saudi King Salman
Saudi King Salman - फोटो : Twitter
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

सऊदी अरब में काम कर रहे भारतीय कामगारों के लिए अच्छी खबर है। सऊदी अरब में प्रवासी मजदूरों को लेकर आज से नियमों में बदलाव किया गया है, जिसका वहां काम कर रहे लाखों भारतीय कामगारों का फायदा मिलेगा। अब सऊदी अरब में भारतीय कामगारों समेत एक करोड़ से अधिक प्रवासी मजदूर अपनी मर्जी से नौकरी बदल सकेंगे। साथ ही अपनी मर्जी से अपने देश आ-जा सकेंगें।



सऊदी अरब ने पिछले साल नवंबर में कफाला सिस्टम में बदलाव कर नए 'कफाला स्पॉन्सरशिप सिस्टम' को लागू करने का वादा किया था, उसे रविवार को आधिकारिक रूप से लागू कर दिया है। 'कफाला स्पॉन्सरशिप सिस्टम' को लागू होने से वहां काम करने वाले लाखों भारतीय कामगारों को फायदा होगा। इसके तहत नियोक्ताओं (मालिक या कंपनियों) के दुर्व्यवहार और शोषण की स्थिति में कम वेतन पाने वाले ऐसे लाखों प्रवासी मजदूरों पर अपने उसी नियोक्ता के साथ बंधे रहने की पाबंदी खत्म हो गई।

प्रवासी मजदूरों से ये पाबंदियां हटीं

सऊदी अरब के मानव संसाधन और सामाजिक विकास मंत्रालय ने कहा कि इन सुधारों के तहत विदेशी कर्मचारियों को एक जगह से दूसरी जगह काम करने, नौकरी छोड़ने, देश में फिर से प्रवेश करने और अपने नियोक्ता की सहमति के बिना अंतिम निकासी वीजा सुरक्षित करने की अनुमति दी जाएगी। इन सुधारों की लंबे समय से जरूरत महसूस की जा रही थी। मजदूर सीधे तौर पर सरकारी सेवाओं के लिए आवेदन कर सकेंगे। कंपनी के मालिकों के साथ जो भी कॉन्ट्रैक्ट होगा, उसे ऑनलाइन रखा जाएगा। बता दें कि इससे पहले, बिना कंपनी की अनुमति के प्रवासी मजदूर ऐसा नहीं कर सकते थे और ज्यादातर मामलों में वीजा का डर दिखाकर मजदूरों का शोषण किया जाता था।

मजदूरों के लिए बेहतर माहौल बनाने का प्रयास : उप मंत्री
सऊदी अरब के मानव संसाधन मंत्रालय के उप मंत्री अब्दुल्लाह बिन नसीर अबुथुनायन  कहा था कि हम देश में एक बेहतर श्रम बाजार बनाना चाहते हैं और साथ ही मजदूरों के लिए काम के माहौल को भी बेहतर बनाना चाहते हैं।श्रम कानूनों में इन बदलावों से विजन 2030 के उद्देश्यों को हासिल करने में मदद मिलेगी। विजन 2030 के तहत सऊदी अरब तेल पर अपनी निर्भरता कम कर दूसरे क्षेत्रों में भी आगे बढ़ना चाहता है।

बता दें कि कफाला सिस्टम को खत्म करने की घोषणा पिछले साल नवंबर में की गई थी।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00