लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   World ›   Russian cosmonaut launches to space from US, 1st time in 20 years

Russian launches To Space: बीस साल में पहली बार रूसी अंतरिक्ष यात्री ने अमेरिका से भरी उड़ान

पीटीआई, केप केनवरल। Published by: देव कश्यप Updated Thu, 06 Oct 2022 12:06 AM IST
सार

अमेरिका के फ्लोरिडा प्रांत में 'इयान' तूफान के कारण उनकी स्पेस-एक्स कंपनी के रॉकेट की उड़ान टाल दी गई थी। जापान की अंतरिक्ष एजेंसी के अंतरिक्ष यात्री कोइची वकाता ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि इस प्रक्षेपण के जरिए हम फ्लोरिडा के आसमान को सभी के लिए थोड़ा सा रोशन करेंगे। कोइची पांचवीं बार अंतरिक्ष की यात्रा कर रहे हैं।

रूसी अंतरिक्ष यात्री ने अमेरिका से भरी उड़ान।
रूसी अंतरिक्ष यात्री ने अमेरिका से भरी उड़ान। - फोटो : वीडियो स्क्रीनग्रैब@NASA
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

बीस साल में पहली बार बुधवार को किसी रूसी अंतरिक्ष यात्री ने अमेरिका से अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के लिए उड़ान भरी। यूक्रेन संकट को लेकर दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंधों के बावजूद रूसी अंतरिक्ष यात्री नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) और जापान के अंतरिक्ष यात्रियों के साथ अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के लिए रवाना हुए।



अमेरिका के फ्लोरिडा प्रांत में 'इयान' तूफान के कारण उनकी स्पेस-एक्स कंपनी के रॉकेट की उड़ान टाल दी गई थी। जापान की अंतरिक्ष एजेंसी के अंतरिक्ष यात्री कोइची वकाता ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि इस प्रक्षेपण के जरिए हम फ्लोरिडा के आसमान को सभी के लिए थोड़ा सा रोशन करेंगे। कोइची पांचवीं बार अंतरिक्ष की यात्रा कर रहे हैं।


पांच महीने तक चलेगा मिशन
कोइची वकाता के साथ पृथ्वी की परिक्रमा करने वाली पहली अमेरिकी मूल की महिला मरीन कर्नल निकोल मान, नौसेना के कैप्टन जोश कसाडा और रूस की एकमात्र महिला अंतरिक्ष यात्री अन्ना किकिना अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के लिए रवाना हुए। इनका यह मिशन पांच महीने तक चलेगा। सभी अंतरिक्ष यात्री गुरुवार को अपने गंतव्य तक पहुंचेंगे।

निकोल मान ने कक्षा में पहुंचते ही कहा, बहुत बढ़िया!। उन्होंने कहा कि यह एक आसान चढ़ाई की सवारी थी। आपके पास तीन नए अंतरिक्ष यात्री हैं जो अभी अंतरिक्ष में तैरकर बहुत खुश हैं। ये नासा के कैनेडी स्पेस सेंटर से बुधवार दोपहर में प्रस्थान करने के 29 घंटे बाद गुरुवार को अंतरिक्ष स्टेशन पहुंचेंगे और मार्च तक पृथ्वी पर वापस नहीं आएंगे। ये अप्रैल में आए अमेरिकी-इतालवी क्रू की जगह लेंगे।

गौरतलब है कि अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री फ्रैंक रूबियो ने दो सप्ताह पहले कजाख्स्तान से सोयुज रॉकेट के जरिए अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरी थी, उनके बदले रूसी अंतरिक्ष एजेंसी की अन्ना किकिना ने अमेरिका से अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरी है। 260 मील ऊंची (420-किलोमीटर) अंतरिक्ष आउटपोस्ट पर निरंतर अमेरिका और रूस की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए अंतरिक्ष एजेंसियों ने गर्मियों में अपनी उड़ानों में सीटों की अदला-बदली करने पर सहमति व्यक्त की थी।

फरवरी के अंत में यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के बाद वैश्विक शत्रुता होने के बावजूद वस्तुओं और सेवाओं के आदान-प्रदान को अधिकृत किया गया था। अगला क्रू एक्सचेंज बसंत ऋतु में होगा। रूस के अंतरिक्ष अधिकारी सर्गेई क्रिकालेव ने इस सप्ताह संवाददाताओं को बताया था कि रूस कम से कम 2024 तक अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि रूस इस दशक के अंत तक कक्षा में अपना खुद का स्टेशन बनाना चाहता है, लेकिन हम जानते हैं कि यह बहुत जल्दी नहीं होने वाला है, इसलिए शायद हम तब तक नासा के साथ उड़ान भरते रहेंगे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00