विज्ञापन
विज्ञापन

भारत-पाक को अपने मतभेद द्विपक्षीय तरीके से सुलझाना चाहिए : शंघाई सहयोग संगठन

भाषा, बीजिंग Updated Fri, 22 Mar 2019 10:10 PM IST
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर
ख़बर सुनें
शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के नवनियुक्त महासचिव व्लादिमीर नोरोव ने कहा है कि भारत और पाकिस्तान को अपने मुद्दों को द्विपक्षीय ढंग से सुलझाना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने जोर दिया कि आतंकवाद एवं अलगाववाद के खिलाफ ‘‘बिना शर्त’’ लड़ाई की प्रतिबद्धता के बिना दोनों देशों की सुरक्षा समूह में सहभागिता ‘‘असंभव’’ हो सकती है।
विज्ञापन
विज्ञापन
शंघाई सहयोग संगठन का गठन 2001 में शंघाई में हुआ था और चीन, रूस, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, ताजिकिस्तान तथा इसके संस्थापक सदस्यों में थे। 2017 में इसका विस्तार किया गया और भारत तथा पाकिस्तान को इसमें शामिल किया गया। हाल ही में कार्यभार संभालने वाले नोरोव ने बुधवार को अपने पहले संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पुलवामा आतंकी हमला भारत और पाकिस्तान के बीच शांति के विरोधियों की ओर से ‘‘उकसाने वाला प्रत्यक्ष कृत्य’’ था।

उन्होंने विभिन्न सवालों के जवाब में कहा, ‘‘भारत और पाकिस्तान के बीच हाल की स्थिति, जिसके कारण लोग हताहत हुए, मैं कहना चाहता हूं कि यह भारत और पाकिस्तान के बीच शांति तथा समझौते के विरोधियों की ओर से किया गया सीधे तौर पर उकसाने वाला कृत्य था।’’ 

उनसे सवाल किया गया था कि भारत और पाकिस्तान के बीच के तनाव को कम करने के लिए एससीओ का कैसे इस्तेमाल हो सकता है। इसके जवाब में उन्होंने कहा कि एससीओ का पूर्ण सदस्य बनने से पहले भारत और पाकिस्तान ने संगठन के सदस्यों द्वारा विकसित किए गए कानूनी ढांचे के सभी प्रावधानों को सख्ती से लागू करने के लिए प्रतिबद्धता जतायी है।

उन्होंने कहा कि ऐसे मौलिक दायित्वों में से एक यह भी है कि द्विपक्षीय असहमति एससीओ परिवार में नहीं लाना जाएगा क्योंकि एससीओ विवादित द्विपक्षीय मुद्दों के निपटारे में शामिल नहीं है, चाहे सीमा, जल या सदस्यों के बीच द्विपक्षीय संबंधों में अन्य विषय हों। उन्होंने कहा कि इन मुद्दों का हल किया जाना चाहिए और द्विपक्षीय बातचीत, सद्भावना और आपसी उचित समझौते के माध्यम से हल किया जाना चाहिए।

Recommended

अभिरुचि- एक अनूठी पहल अब पढ़ाई नहीं बनेगी बोझ
Invertis university

अभिरुचि- एक अनूठी पहल अब पढ़ाई नहीं बनेगी बोझ

लंबी आयु और अच्छी सेहत के लिए इस सावन महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक - 29/ जुलाई/2019
Astrology

लंबी आयु और अच्छी सेहत के लिए इस सावन महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक - 29/ जुलाई/2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Rest of World

कनाडा का एक प्रांत भी चला अमेरिका की राह

कनाडा के क्यूबेक प्रांत की सरकार अमेरिका की राह पर चलने जा रही है। प्रांतीय विधान सभा ने आप्रवासियों और शरणार्थियों की संख्या कम करने वाले बिल को मंजूरी दी है।

17 जुलाई 2019

विज्ञापन

सपा विधायक नाहीद हसन का विवादित बयान-भाजपाई दुकानदारों से सामान न खरीदें

समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन एक विवादित बयान के कारण सुर्खियों में आ गए हैं। विधायक नाहिद हसन का एक लाइव वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें वह लोगों से भाजपाई दुकानदारों से सामान न खरीदने की बात कह रहे हैं।

22 जुलाई 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree