विज्ञापन

श्रीलंका में संसद भंग करने के लिए अदालत में चुनौती देंगे रॉनिल विक्रमसिंघे

एजेंसी, कोलंबो Updated Sat, 10 Nov 2018 07:27 PM IST
Ranil Wickramasinghe
Ranil Wickramasinghe
विज्ञापन
ख़बर सुनें
श्रीलंका के अपदस्थ प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे की यूनाइटेड नेशनल पार्टी (यूएनपी) ने राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना द्वारा संसद को भंग किए जाने को अवैध करार दिया है। पार्टी ने कहा है कि वह इस फैसले को अदालत में चुनौती देगी। 
विज्ञापन
एक दिन पहले ही राष्ट्रपति ने 5 जनवरी को मध्यावधि चुनाव कराने की घोषणा की थी। पार्टी ने एक बयान में कहा कि कानून का शासन व निरंकुश कदमों से संविधान की रक्षा सुनिश्चित करने के लिए पार्टी अदालतों से हस्तक्षेप का अनुरोध करेगी। पूर्व वित्त मंत्री और यूएनपी नेता मंगला समरवीरा ने कहा कि सिरीसेना के बढ़ते अत्याचार का अदालतों में, संसद में और चुनाव में मुकाबला किया जाएगा। 

सिरीसेना ने 26 अक्तूबर को विक्रमसिंघे को बर्खास्त कर दिया था। सिरीसेना द्वारा संसद को भंग किए जाने तथा मध्यावधि चुनाव की घोषणा किए जाने से श्रीलंका में राजनीतिक संकट गहरा गया है। सिरीसेना की पार्टी के नेता और मंत्री दिनेश गुनावर्दन ने आरोप लगाया कि संसद अध्यक्ष करू जयसूर्या के आचरण के कारण संसद भंग की गई।

 

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Rest of World

मोदी ने किया बैंकिंग प्रौद्योगिकी प्लेटफॉर्म एपिक्स का उदघाटन, इन देशों के पीएम से की मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को यहां बैंकिंग प्रौद्योगिकी प्लेटफॉर्म एपिक्स का उद्घाटन किया। अप्लिकेशन प्रोग्रामिंग इंटरफेस एक्सचेंज (एपिक्स) को विश्व के उन दो अरब लोगों को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है

14 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

हिंदू देवी के नाम से बसा है यह जापानी शहर

देश-विदेश में हिंदू धर्म के बहुत से खूबसूरत मंदिर बने हुए हैं। आज हम आपको विदेशी धरती पर बने एक ऐसे शहर के बारे में बताने जा रहे हैं, जो देवी लक्ष्मी के नाम पर बना हुआ है।

5 अक्टूबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls
Niine

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree