विज्ञापन

पायलट और कंट्रोलर की 'गलतफहमी' की वजह से हुई नेपाल में विमान दुर्घटना

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला Updated Tue, 13 Mar 2018 05:37 PM IST
 plane crash at Nepal main airport cause of miscommunication between the controllers and the pilot
ख़बर सुनें
नेपाल के त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर लैंड करते समय दुर्घटनाग्रस्त हुए प्लेन में कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई वहीं 21 लोगों को बचा लिया गया है। विमान दुर्घटना की जांच कर रहे अधिकारियों ने बताया है कि इस दुर्घटना की वजह पहली नजर में 'कन्फ्यूजन' नजर आ रही है।  
विज्ञापन
विमान की लैंडिग के दौरान पायलट को जो निर्देश दिया गया उसने कुछ मिनट बाद उसे नहीं माना। निर्देश दिए जाने के दौरान विमान लैंड करने के लिए तैयार था और रनवे पर काफी नीचे उड़ रहा था, उसी समय वह जमीन से टकरा गया और उससे धुआं निकलने लगा। 

ट्रैफिक मॉनिटरिंग वेबसाइट liveatc.net पर डाली गई रिकॉर्डिंग से पता चला है कि पायलट ने पहले कंट्रोलर से उत्तरी दिशा से विमान को लैंड कराने की परमिशन मांगी जिसे एयर ट्रैफिक कंट्रोलर ने हरी झंडी दे दी। लेकिन कुछ ही मिनट बाद पायलट ने कहा कि वह दक्षिण की तरफ से लैंड करने के लिए तैयार है कंट्रोलर ने फिर हरी झंडी दे दी। 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

दोनों का ही ध्यान कहीं और था

विज्ञापन

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Rest of World

तेजाब से जलाकर नाली में बहा दिया गया था सऊदी के पत्रकार खशोगी का शव : रिपोर्ट

सऊदी मूल के अमेरिकी पत्रकार जमाल खशोगी को इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में मारने के बाद हत्यारों ने उनके शव को तेजाब से जला दिया था।

11 नवंबर 2018

विज्ञापन

दुनिया में सबसे ज्यादा गुलाम हमारे देश में ही हैं मौजूद, आंकड़ें देखकर हो जाएगी हैरानी

पूरी दुनिया में आज भी साढ़े चार करोड़ से ज्यादा लोग गुलामी की जंजीरों में जकड़े हुए हैं। ग्लोबल स्लेवरी इंडेक्स 2016 के मुताबिक दुनिया के 167 देशों में साढ़े चार करोड़ से ज्यादा लोग गुलाम हैं।

4 दिसंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election